युवकयुवती की हत्या का नहीं खुल पाया राज एसआईटी का गठन

2019-04-25T06:00:58+05:30

-एक ही जगह से मिले युवक और युवती के शव की क्या है दास्तां

RANCHI : जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के शहीद मैदान में हुए दो हत्याकांडों से अब तक परदा नहीं उठ पाया है। दोनों मामले अधर में लटके हैं। नाले से पहले संदीप का शव मिलना और उसके कुछ दिनों बाद युवती का शव भी उसी जगह से मिलना क्या कोई साजिश है या महज संयोग है। यह सवाल अब पुलिस अधिकारियों के होश उड़ा रहा है। मामले को नया मोड़ देता है। अभी तो पुलिस संदीप की हत्या का प्रमाण भी नहीं जुटा पाई थी कि एक युवती की हत्या ने इस गुत्थी को और उलझा दिया। घटनास्थल पर युवती का शव अर्धनग्न अवस्था में मिला था, जो कि चर्चा का विषय बना हुआ है। और जब पुलिस ने संदीप का शव नाले से बरामद किया था तो उसका हाथ साड़ी से बंधा हुआ था।

एसआईटी का गठन

दोनों की हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए एसएसपी अनीश गुप्ता ने एसआईटी (स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम) का गठन किया है। एसआईटी का नेतृत्व हटिया डीएसपी प्रभात रंजन बरवार करेंगे। इसमें जगन्नाथपुर थानेदार अनुप कर्मकार, धुर्वा इंस्पेक्टर राजीव कुमार, तुपुदाना ओपी प्रभारी तारीक अनवर को शामिल किया गया है।

दोनों हत्या की एक-दूसरे से लिंक को हो रही जांच

पुलिस दोनों हत्याओं को एक दूसरे से लिंक करके भी जांच कर रही है। हालांकि युवती की अब तक पहचान नहीं हो पाई है। युवती के शरीर के हिस्से को डीएनए टेस्ट के लिए एफएसएल के पास भेजा गया है। युवती के शव को पुलिस ने रिम्स के शीत गृह में रखवाया है। इसके बाद जगन्नाथपुर क्षेत्र के कुछ लोग उसकी पहचान के लिए रिम्स गए थे। हालांकि किसी ने भी युवती की पहचान नहीं की।

inextlive from Ranchi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.