इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षाओं में निगेटिव मार्किंग खत्म

2019-04-12T08:54:14+05:30

क्रेट में भी किया गया बड़ा बदलाव

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में नए शैक्षिक सत्र के लिए होने जा रही प्रवेश प्रक्रिया के दौरान होने वाली प्रवेश परीक्षाओं में निगेटिव मार्किंग को समाप्त कर दिया गया है। इसके अलावा क्रेट में बड़ा चेंज किया गया है। क्रेट में शामिल होने वाले जेआरएफ, नेट और पीजी क्वालीफाईड सभी स्टूडेंट को तीनो चरण की परीक्षाओं में शामिल होना होगा। क्रेट में शामिल जनरल कैटेगरी के अभ्यर्थियों को एग्जाम में 50 फीसदी अंक लाना जरूरी होगा। वहीं ओबीसी, एससी एवं एसटी के लिए 45 फीसदी अंकों की बाध्यता रखी गई है। यह जानकारी देते हुए प्रवेश भवन में डायरेक्टर एडमिशन प्रो। मनमोहन कृष्ण ने बताया कि क्रेट की लेवल वन परीक्षा में विषय की बजाय 50 फीसदी सवाल रिसर्च मेथेडोलॉजी से पूछे जाएंगे।

प्रवेश प्रक्रिया 2019-20 के लिए महत्वपूर्ण निर्देश

-सभी कोर्सेस के लिए ऑनलाइन अप्लाई 12 अप्रैल को भोर में 04 बजे से।

-आवेदन की अंतिम तिथि 03 मई।

-पीजीएटी वन और रिसर्च की प्रवेश परीक्षाएं 20 से 22 मई के बीच।

-अंडर ग्रेजुएट की प्रवेश परीक्षाएं 27 से 29 मई के बीच।

-पीजीएटी टू, बीएड, एमएड जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की ऑनलाइन परीक्षाएं 29 मई के बाद होगी।

-सभी पीजी एवं यूजी प्रवेश परीक्षाओं के परिणाम 10 जून से 15 जून के बीच।

-अलग-अलग कोर्सेस के लिए प्रवेश का कार्य 15 जून से 10 जुलाई के बीच सम्पन्न कर लिया जाएगा।

-प्रवेश पत्र प्रवेश परीक्षाओं से एक सप्ताह पूर्व डाउनलोड किए जा सकेंगे।

-परीक्षाओं के लिए न्यूनतम अर्हता अंक निर्धारित होंगे।

-परीक्षाओं में जनरल कैटेगरी के अभ्यर्थियों के लिए 30 फीसदी एवं ओबीसी कैटेगरी को 27 फीसदी अंक लाना अनिवार्य होगा।

-प्रत्येक परीक्षा बहुविकल्पीय प्रश्नों पर आधारित होगी तथा अधिकतम 300 अंकों की होगी

-केवल क्रेट की परीक्षा में वस्तुनिष्ठ के अलावा लिखित प्रकार के सवाल होंगे।

-सभी परीक्षाओं के लिए अधिकतम निर्धारित समय 2:30 घंटे का होगा।

-इस बार एडमिशन में सवर्ण वर्ग को 10 फीसदी आरक्षण के चलते 10 फीसदी सीटें भी बढ़ा दी गई हैं।

-लेकिन यह सीटें रिसर्च और प्रोफेशनल कोर्स में नहीं बढ़ाई गई हैं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.