तत्काल में भी टिकट का अकाल

2019-06-13T06:00:49+05:30

i reality check

-जंक्शन के रिजर्वेशन हॉल में रोजाना हो रहा हंगामा, नहीं नजर आती जीआरपी या आरपीएफ

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: दिल्ली, मुंबई, हावड़ा और पहाड़ों की तरफ जाने वाली ट्रेनों में सीटें फुल हैं। पूरे जून में कन्फर्म टिकट तो सपना ही है, तत्काल टिकट के लिए मारामारी मची है। इलाहाबाद जंक्शन के रिजर्वेशन हाल में सुबह के समय रोजाना हंगामा हो रहा है। हैरानी की बात यह है कि इस दौरान न तो जीआरपी और न ही सीआरपीएफ का कोई जवान नजर आता है। दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट रिपोर्टर ने मंगलवार की सुबह साढ़े आठ बजे जंक्शन के रिजर्वेशन हॉल के हालात का जायजा लिया।

सीन-1

आगे जाने की होड़

रिजर्वेशन हॉल में तत्काल टिकट का टोकन पाने के लिए लोगों में होड़ लगी हुई थी। लाइन में आगे लगने और टोकन नंबर पाने के लिए लोग एक-दूसरे को पीछे करने में लगे थे। एसी और स्लीपर कोच में तत्काल टिकट के लिए काउंटर नंबर 11 और 12 से लोग फार्म ले रहे थे।

सीन-2

महिलाओं में धक्का-मुक्की

काउंटर नंबर सात को महिलाओं और सीनियर सिटीजंस के लिए आरक्षित किया गया था। यहां टोकन नंबर के बगैर ही तत्काल टिकट बनना था। महिलाएं लाइन में लगे बगैर एक-दूसरे से धक्का-मुक्की कर रही थीं। इसको लेकर महिलाओं में कहासुनी भी खूब हो रही थी।

सीन-3

नहीं मिला कन्फर्म टिकट

दस बजे जैसे ही एसी तत्काल टिकट की बुकिंग शुरू हुई, लोगों में टिकट बनवाने की होड़ मच गई। एक नंबर टोकन पाने वाले व्यक्ति को ही कन्फर्म टिकट मिल पाया, बाकी लोग बस लाइन में खड़े रहे। काउंटर पर जाने के बाद पता चलता कि सीट बुक हो चुका है।

सीन-4

नहीं आता कोई जवान

रिजर्वेशन काउंटर पर टिकट बुकिंग में तैनात रेल कर्मचारियों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि तत्काल टिकट को लेकर आए दिन हंगामा हो रहा है। लोग आपस में ही मारपीट करने लगते हैं। यही नहीं रेल कर्मचारियों से भी गाली-गलौज भी करते हैं। इस दौरान जीआरपी या फिर आरपीएफ का एक भी जवान नहीं रहता है।

वर्जन-

गर्मी का सीजन है, इसलिए तत्काल की डिमांड है। काउंटर के अंदर की व्यवस्था की जिम्मेदारी हमारी और रिजर्वेशन हॉल में व्यवस्था की जिम्मेदारी जीआरपी और आरपीएफ की है। लेकिन यह लोग यहां बहुत कम दिखाई देते हैं।

-बृजेश सिंघल, सीआरएस

इलाहाबाद जंक्शन

वेटिंग का हाल

इलाहाबाद से मुंबई

11062 पवन एक्सप्रेस

21 जून तक वेटिंग 60 पार

11056 गोदान एक्सप्रेस

19 जून तक वेटिंग 80 पार

11072 कामायनी एक्सप्रेस

19 जून तक 90 पार

इलाहाबाद से दिल्ली

20801 मगध एक्सप्रेस

14 जून 230

15 जून 203

16 जून 219

12581 मंडुवाडीह एक्सप्रेस

14 जून 179

15 जून 173

16 जून 127

17 जून 156

22435 वंदे भारत एक्सप्रेस

14 जून 136

15 जून 114

16 जून 161

18 जून 51

12417 प्रयागराज एक्सप्रेस

14 जून 215

15 जून 252

16 जून 225

12275 दूरंतो एक्सप्रेस

13 जून 135

16 जून 154

18 जून 69

20 जून 67

23 जून 113

इलाहाबाद से हरिद्वार

14163 संगम एक्सप्रेस

14 जून 67

15 जून 61

16 जून 45

14115 हरिद्वार एक्सप्रेस

16 जून 34

18 जून आरएसी

20 जून आरएसी

कॉलिंग

मैं भोपाल का रहने वाला हूं। ईद पर अपने रिलेटिव के घर आया था। वापस लौटने के लिए तीन दिन से लगातार तत्काल के लिए सुबह लाइन लगा रहा हूं, लेकिन टिकट नहीं मिल पा रहा।

-जावेद बेग

मुझे मुंबई जाना है। कन्फर्म बर्थ नहीं मिलने पर तत्काल ही सहारा है। कई दिन से ट्राई कर रहा हूं। सुबह सात बजे ही स्टेशन पहुंचकर लाइन लगा लेता हूं। लेकिन काउंटर तक पहुंचते-पहुंचते टिकट बुक हो जाता है।

अंकुर

तत्काल टिकट के लिए बहुत मारामारी की स्थिति है। टोकन नंबर लेने और फिर लाइन में लगने को लेकर हंगामा होता रहता है। लेकिन जीआरपी, आरपीएफ का कोई जवान नजर नहीं आता है।

-प्रवीण

टिकट काउंटर पर लाइन में लगकर तत्काल टिकट पाने का कई बार प्रयास किया। लेकिन आज तक कभी रिजर्वेशन काउंटर से तत्काल टिकट नहीं मिल सका। वहीं रेलवे के रजिस्टर्ड एजेंट तत्काल टिकट निकाल कर दे देते हैं।

-दिलीप केसरवानी

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.