अब पुलिस कसेगी फर्जी जमानतियों पर शिकंजा

2019-05-13T06:00:15+05:30

-पुलिस लाइन में थाना प्रभारियों को मिले दिशा निर्देश

-उपचुनाव और काउंटिंग में भी रहेगी पुलिस मुस्तैद

आगरा। पुलिस लाइन में रविवार दोपहर आयोजित मीटिंग में पुलिस को आलाधिकारियों ने दिशा-निर्देश दिए। मीटिंग में क्राइम कंट्रोल से लेकर आगामी चुनाव कॉउटिंग की योजना तैयार की गई। पुलिस लाइन सभागार, क्राइम मीटिंग में अपराधियों पर पूरी तरह अंकुश लगाने की योजना तैयार की गई, जिसके अंतर्गत अपराधियों की फर्जी जमानत देने वालों पर अब पुलिस कठोर कार्रवाई करेगी।

आसानी से मिल जाती है जमानत

पुलिस सूत्रों का कहना है कि पुलिस अपराधियों पर कार्रवाई कर कोर्ट तक पहुंचा देती है। जहां से उन्हें अपराध के जुर्म में जेल भेज दिया जाता है। इसी बीच फर्जी जमानत मिलने से वह बाहर आ जाते हैं और फिर से पुलिस के लिए सरदर्द बन जाते हैं। मीटिंग में इस बार फर्जी जमानत के मामले में आने वाले लोगों के खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाएगी, जिससे वह अपराधियों को जमानत नहीं दे सकें। अगर ऐसा हुआ तो जनपद में होने वाली अपराधिक घटनाओं के ग्राफ में भी गिरावट आएगी।

पुराने अपराधी भी चिन्हित

क्राइम मीटिंग में एसपी सिटी प्रशांत कुमार ने पुराने अपराधियों को चिन्हित करने के निर्देश दिए हैं, इसके साथ ही उनके जमानतदाताओं का भी सत्यापन कराया जाएगा। जिससे आवश्यकता पड़ने पर उनसे पूछताछ की जा सके। सूत्रों के हवाले से ज्ञात हुआ है कि शहर में फर्जी जमानतियों का कॉकस सक्रिय है, जो गंभीर अपराध करने वालों की जमानत देने को तैयार रहते हैं। इसके एवज में वह उक्त अपराधी या उसकी पैरबी करने वाले से रकम वसूल लेते हैं।

उपचुनाव, कॉउटिंग को तैयार की रणनीति

एसपी सिटी प्रशांत कुमार ने मीटिंग में उपस्थित थानाध्यक्षों को आगामी समय में होने वाले उपचुनाव में मुस्तैद रहने के निर्देश दिए हैं, वहीं कॉउटिंग के लिए भी व्यवस्थाओं को बेहतर करने पर जोर देते हुए सक्रियता बरतने के निर्देश जारी किए हैं।

inextlive from Agra News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.