रोजगार सूचकांक में 17 फीसदी उछाल युवाओं के लिए ज्यादा मौके

2018-09-11T05:40:22+05:30

एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि अगस्त के दौरान एक फिर से रोजगार की बहार आ गई है। नियुक्तियों में युवा टैलेंट को ज्यादा मौके मिल रहे हैं।

नई दिल्ली (पीटीआई)। अगस्त में ऑनलाइन नियुक्तियों में 17 प्रतिशत की उछाल दर्ज की गई है। नौकरी डाॅट काॅम की एक रिपोर्ट के मुताबिक इंश्योरेंस, कंस्ट्रक्शन और इंजीनियरिंग सेक्टर की बदौलत आने वाले महीनों में भी नौकरियों की भरमार बनी रहेगी। नौकरी जाॅबस्पीक इंडेक्स अगस्त 2018 में 17 प्रतिशत उछाल के साथ यह 2,161 के स्तर पर रहा जबकि इसी महीने 2017 में यह 1,851 के स्तर पर था। जाॅब पोर्टल के अनुसार, इंश्योरेंस में 68 फीसदी और कंस्ट्रक्शन/इंजीनियरिंग के क्षेत्र में नियुक्तियों के मामले में 22 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज गई है। इस साल अगस्त के दौरान ऑयल एंड गैस इंडस्ट्री में 36 प्रतिशत ज्यादा नौकरियां देखी गईं। ध्यान रहे कि यह क्षेत्र अपने रिवाइवल मोड में है।
युवा टैलेंट के लिए नौकरी बाजार में ज्यादा मौके
नौकरी डाॅट काॅम के सेल्स अधिकारी वी सुरेश ने कहा कि जाॅबस्पीक इंडेक्स में पिछले कुछ महीनों से हलचल देखी जा रही है। आने वाले महीनों में भी इसमें बढ़ोतरी की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि यह ध्यान देने वाली बात है कि नाॅन आईटी क्षेत्र की कंपनियों में यह बढ़त देखने को मिल रही है जैसे ऑटो, रियल इस्टेट, कंस्ट्रक्शन और बीएफएसआई। आईटी और आईटीईएस सेक्टरों में भी धीमी बढ़त है। रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान युवा टैलेंट के लिए रोजगार के ज्यादा मौके सृजित हुए हैं। फ्रेशर्स जिसमें 0-3 साल तक के अनुभवी लोगों की डिमांड अगस्त के महीने में ज्यादा रही। ऐसे लोगों को 19 फीसदी ज्यादा रोजगार के मौके मिले। 4-7 साल तक के अनुभव वालों के लिए नौकरी बाजार में 17 प्रतिशत ज्यादा मौके मिले वहीं 8-12 साल तक के अनुभव के लोगों के लिए 15 फीसदी ज्यादा मौके थे।
अगस्त के दौरान सबसे ज्यादा नौकरी पुणे में
16 साल के अनुभव वाले लीडरशिप रोल वाले लोगों के रोजगार के मौकों में 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखने को मिली। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि महानगरों में रोजगार के मौकों में सकारात्मक बढ़ोतरी देखने को मिली। अगस्त महीने के दौरान दिल्ली/एनसीआर में 12 प्रतिशत ज्यादा नियुक्तियां हुईं। चेन्नई में 18 फीसदी ज्यादा, मुंबई में 22 प्रतिशत ज्यादा, हैदराबाद में 11 प्रतिशत ज्यादा, कोलकाता में 21 प्रतिशत ज्यादा और पुणे में 26 प्रतिशत ज्यादा नौकरियों के मौके मिले। नौकरी सूचकांक के ये आंकड़े वेबसाइट पर अगस्त महीने के दौरान नौकरियों की लिस्टिंग के आधार पर तैयार किया गया है। रिपोर्ट के लिए आधार वर्ष जुलाई 2008 तय किया गया है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.