शॉपिंग का नया ट्रेंड ऑफलाइन देखकर ऑनलाइन परचेजिंग

2019-04-08T10:04:03+05:30

-ऑनलाइन शॉपिंग को बेहतर मानते हैं स्टूडेंट्स

-हाउस वाइव्स बोलीं ऑनलाइन शॉपिंग पर नहीं कर सकते फेथ

BAREILLY: समय के साथ शॉपिंग का कल्चर भी तेजी से बदल रहा है। पिछले कुछ साल में एक और मॉल में शॉपिंग का क्रेज बढ़ा है तो दूसरी ओर ऑनलाइन शॉपिंग भी लोग खूब कर रहे हैं। अब विंडो शॉपिंग भी लोग कर रहे हैं। तमाम लोग ऐसे भी हैं जो ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ऑप्शन देखने के बाद जहां सस्ता मिलता है वहीं से प्रोडक्ट खरीदना पसंद करते हैं। बरेलियंस को किस तरह से शॉपिंग करना पसंद है यह जानने के लिए संडे को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की टीम ने पीलीभीत बाइपास रोड स्थित एक मॉल का विजिज किया। कॉलेज गोइंग यूथ की बात करें तो वह ऑनलाइन शॉपिंग को ही बेहतर मानते हैं क्योंकि ऑनलाइन शॉपिंग पर कई बार अच्छा डिस्काउंट मिलता है। मॉल या मार्केट में प्रोडक्ट देखने के बाद उसी प्रोडक्ट को कम कीमत पर शॉपिंग वेबसाइट के जरिए खरीद लेते हैं। वहीं दूसरी और हाउस वाइव्स की बात करें तो वह ऑफलाइन शॉपिंग को ही बेहतर मानती हैं। उनका कहना है कि प्रोडक्ट को सामने देखने से ही उसकी सही क्वालिटी का पता लग सकता है। कोई भी प्रोडक्ट शॉपिंग साइट पर तो अच्छा लगता है लेकिन उसकी क्वालिटी का अंदाजा नहीं लग पाता है। खासकर कपड़ों के मामले में ऑफलाइन शॉपिंग को ही महिलाएं बेहतर मानती हैं।

ऑनलाइन शॉपिंग फायदे का सौदा
15 से 25 साल एज गु्रप के यूथ में विंडो शॉपिंग का ट्रेंड तेजी से डेवलप हुआ है। मॉल या मार्केट जाकर पहले प्रोडक्ट की क्वालिटी देखते हैं फिर ऑफलाइन और ऑनलाइन रेट कंपेयर करते हैं और जहां प्रोडक्ट सस्ता मिलता है वहीं से परचेज कर लेते हैं। यूथ का कहना है कि ऑनलाइन शॉपिंग फायदे का सौदा है।

पसंद न आए तो प्रोडक्ट वापस
मुझे ऑनलाइन शॉपिंग करना ही पसंद है। यह ज्यादा आसान और फायदेमंद है। रही बात प्रोडक्ट की क्वालिटी की तो प्रोडक्ट की डिलीवरी मिलने पर यदि उसकी क्वालिटी सही न लगे या कोई डिफेक्ट हो तो हमारे पास प्रोडक्ट को वापस करने का ऑप्शन तो रहता ही है।

सलोनी

मिलता है अच्छा डिस्काउंट
काउंटर शॉपिंग के बजाए ऑनलाइन शॉपिंग ज्यादा बेहतर है। सभी कंपनियां अपने प्रोडक्ट ऑनलाइन बेच रही हैं और अच्छा डिस्काउंट भी दे रही हैं। फिर ऑफलाइन शॉपिंग करें। कई बार मॉल या मार्केट में मिल रहे प्रोडक्ट शॉपिंग वेबसाइट पर काफी कम रेट में मिल जाते हैं।

श्रुति

घर बैठ शॉपिंग करना आसान

मॉल या मार्केट जाकर शॉपिंग करना काफी थकाने वाले काम है। जबकि शॉपिंग साइट पर घर बैठे ही अच्छे प्रोडक्ट परचेज कर सकते हैं और अच्छा डिस्काउंट भी मिलता है। कई बार मॉल में प्रोडक्ट देखने के बाद वही प्रोडक्ट ऑनलाइन परचेज किया तो वह ज्यादा सस्ता मिला।

माही

कंपेयर करने के बाद परचेजिंग

शॉपिंग साइट्स पर ऑफर तो अच्छे मिलते हैं, लेकिन प्रोडक्ट की क्वालिटी कैसी है यह देखकर ही पता चल पाता है। मॉल में आकर प्रोडक्ट की क्वालिटी देखने के बाद यदि सही लगती है तो फिर ऑफलाइन और ऑनलाइन रेट कंपेयर करते हैं जहां सस्ता मिलता है वहीं से परचेज कर लेते हैं।

शिवानी

जहां सस्ता वहीं से शॉपिंग

मैं ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरह से शॉपिग करता हूं। कई बार मॉल में जो प्रोडक्ट पसंद आता है वही ऑनलाइन काफी कम रेट में मिल जाता है इसलिए जहां कम रेट में अच्छा प्रोडक्ट मिलता है वहीं से परचेज कर लेता हूं।

मोहित

देखने के बाद ही खरीदते हैं

मुझे ऑनलाइन शॉपिंग करना ज्यादा बेहतर लगता है। ब्रांडेड कंपनियों के प्रोडक्ट्स पर ऑनलाइन अच्छा डिस्काउंट मिल जाता है। हालांकि मॉल आकर प्रोडक्ट की क्वालिटी देखने के बाद दोनों के रेट कंपेयर करने के बाद परचेज करते हैं।

राकेश

 

--------------

ऑनलाइन शॉपिंग पर फेथ नहीं

वहीं 25 से 40 साल एज गु्रप के लोगों में ज्यादातर ऑफलाइन शॉपिंग करना ही पसंद कर रहे हैं। खासकर हाउस वाइव्स का कहना है कि ऑनलाइन शॉपिंग पर ज्यादा फेथ नहीं कर सकते। कई बार ऑनलाइन शॉपिंग के बाद ऑर्डर की डिलीवरी मिलती है तो उसकी क्वालिटी वैसी नहीं होती है जैसी शॉपिंग साइट पर दिखाई जाती है। इसलिए ऑफलाइन शॉपिंग करना ही ज्यादा ठीक है।

कई बार वापस किए प्रोडक्ट

ऑनलाइन शॉपिंग पर अब फेथ नहीं रहा। कई बार ऑनलाइन परचेजिंग की, ऑर्डर की डिलीवरी हुई तो प्रोडक्ट की क्वालिटी सही नहीं थी और प्रोडक्ट वापस करना पड़ा।

अनीता 1

देखकर ही खरीदते हैं

ऑनलाइन देखने पर प्रोडक्ट की क्वालिटी का पता नहीं लग पाता है। इसलिए मैं मार्केट आकर ही खरीदारी करना पसंद करता हूं। भले ही थोड़ा महंगा मिले, लेकिन बाद में पछताना तो नहीं पड़ेगा।

सुनील

बिना देखे नहीं खरीदते

जब तक कोई चीज आंखों के सामने न हो तब तक उसकी क्वालिटी का पता नहीं लग सकता। खासतौर पर कपड़ों की क्वालिटी तो बिना देख पता ही नहीं लग सकती।

माधुरी

ऑनलाइन शॉॅपिंग पसंद नहीं

मैने कभी ऑनलाइन शॉपिंग नहीं की। जब तक प्रोडक्ट को देखें नहीं तब तक उसकी क्वालिटी कैसे पता कर सकते हैं। ऑनलाइन तो सबच्अच्छा ही लगता है।

अनीता

क्वालिटी देखना भी जरूरी

शॉॅपिंग साइट्स पर ऑफर तोच्अच्छे दिए जाते हैं, लेकिन जो चीज हम खरीदना चाहते हैं उसकी क्वालिटी देखना भी तो जरूरी है। ऑनलाइन देखकर क्वालिटी कैसे पता करें।

रुचि

बिना देखे क्यों खरीदें

छूट तो मॉल में भी मिल जाती है। जब पैसा खर्च ही करना है तो फिर देख परख कर ही कोई भी प्रोडक्ट खरीदना ही समझदारी है। इसलिए ऑफलाइन शॉपिंग ही सही है।

रामऔतार

ऑनलाइन शॉपिंग कभी नहीं

कुछ पैसे बचाने के लिए बिना देखे कोई चीज कैसे खरीद सकते हैं। मैंने कभी ऑनलाइन शॉपिंग नहीं की। जब तक प्रोडक्ट को देखकर सेटिसफाई नहीं हो जाता तब तक प्रोडक्ट नहीं खरीदता हूं।

इलियास

बिना देखे क्यों खरीदें

जब पैसा खर्च करना ही है तो पूरी तसल्ली करने के बाद ही तो खरीदेंगे। टीवी या मोबाइल पर रंग और डिजायन तो देख सकते हैं लेकिन क्वालिटी का पता तो नहीं लग सकता।

हमीर सिंह

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.