एशिया की सबसे महंगी पेंटिंग नीलाम हुर्इ 477 करोड़ रुपये में

2018-10-03T08:35:48+05:30

हांगकांग में एशिया की सबसे महँगी पेंटिंग बिकी है। सिर्फ 16 करोड़ की पेंटिंग को करीब 477 करोड़ रुपये में ख़रीदा गया है। इस पेंटिग को चीनीफेंच आर्टिस्ट जओ वाउकी ने बनाया है।

कानपुर। हांगकांग में एशिया की सबसे महँगी पेंटिंग बेची गई है। चीनी-फेंच आर्टिस्ट जओ वाउ-की द्वारा 1985 में बनाई गई फेमस पेंटिंग 'Juin—Octobre 1985' को हांगकांग के सोथबी में रविवार को करीब 477 करोड़ रुपये में बेचा गया है। ब्लूमबर्ग के मुताबिक, इस पेंटिंग को 'चांग क्यू डुन' नाम के एक व्यक्ति ने 2005 में सिर्फ 16.88 करोड़ रुपये में खरीदा था। इसका मतलब यह है कि 13 साल बाद यह पेंटिंग 28 गुना अधिक दामों में बिकी है। हालांकि, इस पेंटिंग को खरीदने वाले व्यक्ति की पहचान को सार्वजनिक नहीं किया गया है।
93 वर्ष की उम्र में हुआ पेंटर का निधन
बता दें कि इस पेंटिंग को बनाने वाले जओ वाउ-की का 2013 में 93 वर्ष की उम्र में स्विट्जरलैंड में निधन हो गया था। कहा जाता है कि जओ ने यह पेंटिंग अपने करीबी दोस्त आई.एम पीई के कहने पर 1985 में बनाई थी। उन्होंने अपने जीवन के 65 वर्षों में से अधिकांश समय फ्रांस में बिताये। उस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण चीजों पर पेंटिंग बनाई। बता दें कि इससे पहले सबसे महंगी पेंटिंग की नीलामी 2010 में बीजिंग में हुई थी। उस समय पॉलि इंटरनेशनल नाम एक कंपनी ने 469 करोड़ रुपये में एक पेंटिंग बेची थी।

इंडोनेशिया में भूकंप के बाद आई सुनामी से 380 लोगों की मौत, 500 से अधिक घायल

तस्वीरें : एशियन गेम्स 2018 की ओपनिंग सेरेमनी की तस्वीरें नहीं देखीं तो क्या देखा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.