सीबीएसई ने सुरक्षा के लिए किए अहम बदलाव अब ऐप से ही भेजे जाएंगे पेपर

2019-02-12T10:52:23+05:30

सीबीएसई ने पेपर की सुरक्षा के लिए अहम बदलाव किए

अब ऐप से ही भेजे जाएंगे पेपर, बैंक नहीं बनेंगे माध्यम

meerut@inext.co.in

MEERUT : सीबीएसई नकल रोकने के लिए बड़े बदलाव कर रहा है। बोर्ड इस बार बैंकों के माध्यम से पेपर नहीं भेजेगा। बोर्ड प्रिंसिपल को एक ऐप देगा, जिसके जरिए पेपर आएंगे। ऐसा बोर्ड ने नकल को रोकने के लिए किया है, इसके अलावा मूल्यांकन में किसी तरह की कमी न रहे, इसकी जानकारी के लिए भी बीच- बीच में वर्कशॉप का आयोजन किया जाएगा.

पहले हुए है लीक

बता दें कि पिछले एग्जाम में पेपर लीक हुआ था। इसके अलावा कई बार पेपरों के लीक होने की सूचनाएं भी उड़ी थी। यही सब ध्यान में रखते हुए ऐसा कदम उठाया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो इसके लिए कई जगह सीडीएफसी से फिल्म रिलीज हो चुकी है। मेरठ में भी प्रिंसिपल्स को एग्जाम से संबंधित बदलाव व निर्देशों के बारे में बताया जाएगा.

 

एग्जाम सेंटर लोकेटर ऐप

बोर्ड ने इस बार स्टूडेंट्स के लिए एग्जाम लोकेटर ऐप निकाला है, इससे छात्रों को बोर्ड परीक्षाओं को अपने सेंटर तलाशने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी, इसके साथ ही सेंटर सुपरिटेंडेंट, हेड एग्जामनर असिस्टेंट हेड और छात्रों तक के लिए आईकार्ड सीबीएसई ही जारी करेगा। इसके साथ ही मोबाइल पूरी तरह से प्रतिबंध किया गया है। कापियों के मूल्यांकन में किसी तरह की गड़बड़ी न हो, इसलिए 10 दिन की जगह 12 दिन मूल्यांकन होगा। इसके लिए भी वर्कशाप हो रही है.

 

यह भी है बदलाव

- परीक्षा कक्ष में स्टूडेंट्स के साथ कक्ष निरीक्षक भी कोई इलेक्ट्रानिक उपकरण नहीं ले जा सकेंगे.

 

- एक कक्ष में केवल 24 परीक्षार्थी ही बैठेंगे

 

- सभी परीक्षार्थियों के अलावा कक्ष निरीक्षक और परीक्षा में शामिल अन्य स्टाफ भी आई कार्ड लगाएंगे.

 

- त्रुटिरहित मूल्यांकन के लिए मूल्यांकन केंद्र पर प्रत्येक विषय के लिए एक मुख्य परीक्षक, तीन उप मुख्य परीक्षक तथा अंकों की गणना के लिए एक अतिरिक्त उप मुख्य परीक्षक रहेंगे

 

- बोर्ड ने छात्रों के लिए गाइडलाइन जारी की है। इसके मुताबिक सभी डिटेल की जांच सावधानीपूर्वक कर लें और किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी पाए जाने पर तुरंत स्कूल से संपर्क करें

 

लिखे गए है कोड

सीबीएसई ने इस साल होने वाले 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षा को लेकर एडमिट कार्ड जारी कर दिया है। इस बार के एडमिट कार्ड में बोर्ड की ओर से कुछ कोड लिखे गए हैं.12 वीं की परीक्षा इस साल 15 फरवरी से और 10वीं की परीक्षा 22 फरवरी से शुरू होगी.

 

लिखे गए है अल्फाबेट

एडमिट कार्ड पर परीक्षार्थी का नाम, रोल नंबर, सेंटर नंबर, डेट शीट के अलावा सीबीएसई ने श्रेणी के हिसाब से छात्रों को मिली छूट को भी एडमिट कार्ड में लिखा गया है, एडमिट कार्ड पर अलग से कई अलफाबेट लिखे गए हैं जैसे एसएएलपी का मतलब कुछ इस प्रकार है.

 

एस- स्क्राइब

एक्स्ट्रा- एक्स्ट्रा टाइम

ए- एसिसटिव डिवाइस

एल- लार्ज फोन्ट

पी- एडल्ट प्रोमोपटर

 

स्कूल से करें संपर्क

अगर एडमिट कार्ड में कोड के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है तो छात्र अपने स्कूल से संपर्क करें, बोर्ड ने छात्रों के लिए गाइडलाइन जारी करते हुए कहा है कि सभी डिटेल की जांच सावधानी पूर्वक कर लें और किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी पाए जाने पर तुरंत स्कूल से संपर्क करें.

 

 

सुरक्षा के लिहाज से माइनर से बदलाव किए गए हैं। बाकी सब वहीं है, बोर्ड परीक्षा में किसी तरह की लापरवाही नहीं चाहता है.

राहुल केसरवानी, प्रिंसिपल, मेरठ सिटी पब्लिक स्कूल

 

ऐसा सुनने में आ रहा है कि हार्ड पेपर इस बार शायद ऐप पर भेजे जाए, अभी कंफर्म नहीं हो पा रहा.

प्रेम मेहता, प्रिंसिपल, सिटी वोकेशनल स्कूल

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.