पैशन है ट्रैफिक रूल्स तोड़ना

2019-06-06T06:01:00+05:30

i reality check

15

फोर व्हीलर्स एक मिनट में पास हुई सुभाष चौराहे से

02

वाहन चालक ही सीट बेल्ट बांधकर कर रहे थे ड्राइविंग

900

गाडि़यां पास हुई चौराहे से एक घंटे में

30

बाइक्स एक मिनट में पास हुई सुभाष चौराहे से

25

बाइक सवार बिना हेलमेट नजर आए

1800

बाइकें पास हुई चौराहे से एक घंटे में

ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर फाइन बढ़ाने के प्रस्ताव का नहीं दिखा कोई इंपैक्ट

mukesh.chaturvedi@inext.co.in

PRAYAGRAJ: सरकार चाहे जो जतन कर ले। प्रयागराज के वाशिंदे सीट बेल्ट न बांधने और हेलमेट न लगाने का पैशन रखते हैं। मंगलवार को यूपी कैबिनेट द्वारा ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों से जुर्माना राशि की वसूली बढ़ा दिये जाने के बाद बुधवार को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने शहर के सबसे पॉश चौराहे सिविल लाइंस पर रियलिटी चेक किया। इसमें सामने आयी हकीकत चौंकाने वाली थी। एवरेज 17 फीसदी बाइक चलाने वाले ही हेलमेट लगाए मिले। सीट बेल्ट बांधने का आंकड़ा भी सिर्फ 15 फीसदी तक पहुंचा।

चौराहे पर जमाया डेरा

यूपी कैबिनेट के फैसले के बाद दैनिक जागरण आई नेक्स्ट रिपोर्टर ने असलियत परखने के लिए दिन में सुभाष चौराहे पर ही डेरा जमा लिया। एक घंटे तक वह चौराहे पर मौजूद रहकर यहां से पास होने वाली गाडि़यों व बाइकों की संख्या गिनता रहा। इस दौरान नौ सौ गाडि़यां यहां से पास हुई। खास बात यह भी थी कि यहां ट्रैफिक पुलिस का कोई जवान भी नहीं था।

इनका तो भगवान ही मालिक

एक घंटे के दौरान करीब 1800 बाइकें यहां से पास हुई। इसे ड्राइव करने वाले ट्रैफिक रूल्स की एैसी तैसी कर रहे थे। औसत एक मिनट के अंदर करीब 30 बाइकें चौराहे से पास हुई। ईद के अवकाश के दिन अति व्यस्त इस चौराहे पर ज्यादातर बाइक की रफ्तार 50 से 60 के करीब रही। सैकड़ों लोग मोबाइल पर ड्राइविंग के समय बात करते दिखे।

बाक्स

सीधे मुंह नहीं दिया जवाब

कार चालक-1

सवाल: सर आप का नाम क्या है। सीट बेल्ट नहीं बांधे हैं? पता है ऐसा न करने पर अब 100 नहीं, 500 रुपए जुर्माना भरना होगा?

जवाब: मेरा नाम भूपेश तिवारी है। तुम्हें इससे क्या मतलब? गाड़ी मेरी, शरीर मेरा पैसा भी मेरा। जुर्माना हम देंगे।

कार चालक-2

सवाल: सर सीट बेल्ट न बांधना ट्रैफिक रूल्स के विपरीत है, फिर भी आप नहीं बांधे?

जवाब: यार आप मुझे ज्ञान मत दो समझे न। कौन रोकेगा मेरी गाड़ी बताओ। ट्रैफिक के विपरीत है तो जुर्माना तुम लगाओगे। समय खराब कर रहे हो? रही बात नाम की तो जान जाओगे।

कार चालक-3

सवाल: भाई साहब सीट बेल्ट न बांधना और ड्राइव के समय मोबाइल पर बात करना ट्रैफिक रूल्स के विरुद्ध है

जवाब: नाम जानकर क्या करोगे? हमें भी पता है रूल्स। पत्रकार हो न, लगता है बाहर से आए हो। यह इलाहाबाद है समझ जाओगे।

बाक्स

बाइक चालकों का जवाब

बाइक सवार-1

सवाल: भाई साहब हेलमेट न पहनने पर जुर्माना 100 से 500 रुपए हो गया है?

जवाब: अभी लागू तो नहीं हुआ है न, कैबिनेट में मंजूरी मिली है। तुम्हें मेरी बहुत चिंता है तो एक हेलमेट खरीद कर दो दो।

बाइक सवार-2

सवाल: सर आप का नाम क्या है। आप ने हेलमेट नहीं पहना पुलिस चालान कर सकती है।

जवाब: पुलिस चालान मेरी गाड़ी का करेगी कि तुम्हारी। तुम अपना काम करो ठीक है न, मैं पुलिस से निपट लूंगा।

बाइक सवार-3

सवाल: सर बाइक चलाते समय मोबाइल पर बात न किया करिए अब चालान फीस बढ़ गई है।

जवाब: मेरा नाम तौकीर है, कौन चालान करेगा? पुलिस के पास इतना समय नहीं है भाई, तुम भी अपना समय खराब मत करो?

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.