अपने सपूत के आखिरी दर्शन को उमड़ा शहर गूंजे भारत माता की जय और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

2019-06-19T10:58:13+05:30

दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में शहीद हुए मेरठ निवासी मेजर केतन शर्मा को अंतिम विदाई देने के लिए समूचा शहर उमड़ पड़ा

शहरभर में गूंजे भारत माता की जय और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

सैन्य अधिकारियों समेत अंतिम संस्कार में पहुंचे सांसद, विधायक, डीएम और एसएसपी

meerut@inext.co.in
MEERUT : दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में शहीद हुए मेरठ निवासी मेजर केतन शर्मा को अंतिम विदाई देने के लिए समूचा शहर उमड़ पड़ा। मंगलवार दोपहर करीब 3 बजे जैसे ही शहीद केतन शर्मा का पार्थिव शरीर कंकरखेड़ा स्थित श्रद्धापुरी सेक्टर - 4 पहुंचा तो हर किसी आंखे छलक उठी। पूरा माहौल देशभक्ति के नारों से गुजाएमान हो उठा। जिसे देखो वो बस देश पर कुर्बान हुए वीर सपूत की एक झलक पाने को लालायित था। शहीद के स्वागत में सबकी आंखे नम थी लेकिन जुबां पाकिस्तान मुर्दाबाद कह रही थी।

एक झलक पाने को उमड़ी भीड़

शहीद मेजर केतन शर्मा के पार्थिव शरीर को घर पर परिजनों ने सलामी देकर आखिरी यात्रा पर रवाना किया तो शहीद के पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देने वाली भीड़ ने सड़क को फूलों से पाट दिया। शहीद को अंतिम क्रिया के लिए सूरजकुंड ले जाने वाले रास्ते में जनसैलाब जुड़ता गया और काफिला बनता गया। शहीद के पार्थिव शरीर को सूरजकुंड शमशान घाट में नम आंखों से सैन्य अधिकारियों ने बंदूकों की सलामी दी तो वहीं परिजनों ने भी रोते-बिलखते अपने लाल को आखिरी सलाम किया।

बेटी ने पूछा, कहां है पापा

इन सबसे अनजान शहीद मेजर केतन शर्मा की पांच साल की बेटी काइरा सबसे ये पूछती रही कि पापा कहां है लेकिन किसी के पास खामोशी के सिवा कोई जवाब नहीं था? सूरजकुंड में बेटी काइरा ने अपने शहीद पापा को सलामी दी। बेटी के चेहरे को जिसने भी देखा उसकी आंखों से आंसू निकल पड़े।

जनप्रतिनिधियों ने दी श्रद्धांजलि

सूरजकुंड में शहीद मेजर केतन शर्मा की अंतिम क्रिया के दौरान गन्ना राज्य मंत्री सुरेश राणा, सांसद राजेंद्र अग्रवाल, कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल, किठौैर से विधायक सतवीर त्यागी, समाजवादी पार्टी से परविंदर सिंह ईशू, अतुल प्रधान, सब एरिया मेजर जनरल पीएस साई, ब्रिगेडियर आलोक कुमार त्यागी, जसविंदर एस वोहरा, डीएम अनिल ढींगरा, एसएसपी नितिन तिवारी, एसडीएम महेश चंद्र शर्मा एसपी सिटी डॉ। अखिलेश नारायण सिंह, एसपी ट्रैफिक संजीव वाजपेयी, सीओ चक्रपणि त्रिपाठी समेत तमाम अधिकारी मौजूद रहे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.