गोरखपुर की आंखें नम

2019-02-17T06:01:02+05:30

GORAKHPUR: पुलवामा आतंकी हमले के तीसरे दिन शनिवार को भी गोरखपुर की आंखें नम रही। व्यापारियों ने जहां दुकानें स्वत: बंद रखी तो लोग छोटे- छोटे ग्रुप में शहर की सड़कों पर नारेबाजी करते दिखे। इससे ट्रैफिक व्यवस्था तो थोड़ी प्रभावित हुई लेकिन किसी ने रोष प्रकट नहीं किया। बल्कि लोग सड़क छोड़ लोगों को रास्ता देते नजर आए। बुजुर्ग, युवा, बच्चे और महिलाओं तक की आंखें नम रहीं। महराजगंज के लाल पंकज त्रिपाठी का पार्थिव शरीर जैसे गोरखपुर से गुजरी लोगों ने रास्ते में रोककर श्रद्धांजलि दी। साथ ही उनकी शवयात्रा में साथ- साथ गए.

नगर निगम के रानी लक्ष्मीबाई पार्क में सर्वदलीय बैठक कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। शोक सभा में मेयर सीताराम जायसवाल, डीएम के। विजेन्द्र पाण्डियन, नगर विधायक डॉ। राधामोहन दास अग्रवाल, विधान परिषद सदस्य सीपी चन्द, विधायक संगीता यादव, एसएसपी डॉ। सुनील गुप्ता, सीडीओ अनुज सिंह आदि मौजूद थे।

एक दिन का वेतन देंगे कर्मचारी

जवानों के परिजनों की सहायता के लिए निगम के कर्मचारी एक दिन की सैलेरी देने का फैसला लिया है। नगर निगम कर्मचारी व अधिकारी, पंचायत राज विभाग कर्मचारी व अधिकारी, एसडीएम सहजनवां ने इक्ट्ठा हुए रकम को मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का फैसला लिया है।

विभिन्न संगठनों ने किया प्रदर्शन

व्यापारियों ने पाकिस्तान का पुतला फूंका। चैम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष संजय सिंघानियां के नेतृत्व में व्यापारियों के सहयोग से चौरहिया गोला से लालडिग्गी मार्केट को बंद रखा गया। राप्ती नगर विस्तार आवासीय आवंटी संघर्ष समिति ने शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देने को शोक सभा का आयोजन किया। वार्ड नंबर 20 की पार्षद ममता देवी के नेतृत्व में गौतम गुरुंग तिराहे तक कैंडिल मार्च किया। रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद यूपी, उद्योग प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने भी शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी.

इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी, जिला पंचायत सदस्य संघ, विश्व हिन्दू महासंघ, दिग्विजयनाथ स्नातकोत्तर महाविद्यालय, कंबाईन आर्टिस्ट वेलफेयर एसोसिएसन, छात्र संघ संघर्ष समिति, लोकतांत्रिक जनता दल, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी, स्वर्णकार कारीगर कल्याण सेवा समिति, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद, समाचार पत्र विक्रेता संघ, राष्ट्रीय लोकदल, नागरिक सुरक्षा गोरखपुर उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने भी सैनिकों को श्रद्धांजलि दी.

थोक वस्त्र व्यवसाय वेलफेयर सोसाइटी की ओर से दुकानें बंद रखी गई। अध्यक्ष राजेश नेभानी ने बताया कि गीता प्रेस रोड की सभी दुकानें बंद थीं.

एश्प्रा ने दी श्रद्धांजलि

पुलवामा में हुए आत्मघाती विस्फोट में मारे गए सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए एश्प्रा जेम्स एंड ज्वेल्स ने कैंडिल मार्च निकाला। मार्च का संरक्षण बालकृष्ण सर्राफ ने किया। फर्म के निदेशक अनूप सर्राफ व अतुल सर्राफ नेतृत्व में पार्क रोड से शास्त्री चौक तक मार्च निकाला गया। इस दौरान पाकिस्तान मुर्दाबाद जैसे नारे लगाए। मौके पर वैभव सर्राफ, सौमित्र सर्राफ, मधु सर्राफ, दीपिका सर्राफ, श्वेता आदि मौजूद थे.

inextlive from Gorakhpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.