अब बिना हेलमेट नहीं मिलेगा पेट्रोल

2019-06-14T11:24:18+05:30

राइफल क्लब में पेट्रोल पम्प मालिकों की बैठक में जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने पेट्रोल पम्पों पर पुरुष और महिलाओं के लिए अलगअलग शौचालय और रनिंग वॉटर की व्यवस्था कराने का निर्देश दिया

डीएम ने पम्प मालिकों को जारी किया निर्देश

स्कूलों में भी बिना हेलमेट प्रवेश नहीं देने का निर्देश

VARANASI : राइफल क्लब में पेट्रोल पम्प मालिकों की बैठक में जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने पेट्रोल पम्पों पर पुरुष और महिलाओं के लिए अलग-अलग शौचालय और रनिंग वॉटर की व्यवस्था कराने का निर्देश दिया। साथ ही बिना हेलमेट किसी को भी पेट्रोल न देने के नियम को कड़ाई से लागू करने को भी कहा। इसका पालन कराने के लिए पुलिस विभाग को भी निर्देश जारी किया। स्कूलों के लिए आदेश जारी किया गया कि बिना हेलमेट स्कूल में प्रवेश न दिया जाए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने कहा कि पेट्रोल पम्पों पर अच्छे सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं, जिससे किसी प्रकार की घटना में जानकारी लेने में आसानी हो।

लापरवाही पर होगी एफआईआर

विकास भवन में गुरुवार को जिलाधिकारी ने जिला स्तरीय सलाहकार एवं समन्वय समिति की बैठक की। इसमें बैंकों को निर्देश देते हुए कहा कि हमें नये भारत का निर्माण करना है तो छोटे-छोटे लोगों की सहायता करनी होगी। सरकारी योजनाओं में जो भी लोन का आवंटन करना है उसमें किसी प्रकार की हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं की जायेगी। बैंकों की शिकायत मिलती है तो एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

गौशाला का निरीक्षण किया

जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने गुरुवार को बड़ागांव स्थित मधुमखिया ग्राम में निर्माणाधीन गौशाला का निरीक्षण किया। साथ ही शेड के प्लास्टर की गुणवत्ता परखी। उन्होंने 30 जून तक गौशाला के निर्माण कार्य को पूरा कराने और भूसा की खरीद कर पर्याप्त भंडारण का निर्देश दिया। एक करोड़ बीस लाख की लागत से बनने वाले गौशाला में प्लांटेशन, पशुओं के मूत्र की प्रापर यूटिलाइजेशन व्यवस्था के साथ ही इसे सुंदर और हरा-भरा विकसित करने का निर्देश दिया। डीएम ने गौशाला से लगी सरकारी जमीन पर बने विद्यालय को गिराने और सम्बंधित के खिलाफ एफआईआर का निर्देश एसडीएम पिंडरा को दिया।

कोटेदार पुलिस के हवाले

मधुमखिया गांव के ग्रामीणों ने डीएम से कोटेदार की शिकायत की। ग्रामीणों का आरोप था कि कोटेदार का पुत्र घरों में जाकर जबरदस्ती अंगूठा लगवा कर राशन नहीं दे रहा और धमकी भी देता है। डीएम ने कोटेदार को बुलाकर पुलिस के हवाले कर दिया। कहा कि जब तक ग्रामीणों को राशन नहीं दे देता तब तक छोड़ा न जाए।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.