दो चरणों के इलेक्शन के बाद हार का कारण ढूंढ रहे विरोधी

2019-04-22T12:18:34+05:30

: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देवचरा में कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंधन को निशाने पर लिया

- कांग्रेस पर हिंदुओं पर आतंकी ठप्पा लगाने का आरोप लगाया

- सपा-बसपा 50-50 खेलने निकले थे, जनता ने पवेलियन पहुंचाया

बरेली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सैटरडे को देवचरा में चुनावी रैली करने आए तो कांग्रेस के साथ सपा-बसपा के गठबंधन को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि दो चरणों के चुनाव के बाद ही विरोधी हार के कारण ढूंढ़ने में जुट गए हैं। कांग्रेस पर जहां हिंदुओं पर आतंकी ठप्पा लगाने का आरोप लगाया, वहीं सपा-बसपा गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि दोनों पार्टियां 50-50 खेलने निकली थीं, लेकिन जनता ने उन्हें पहले ही पवेलियन पहुंचा दिया।

अकेले-अकेले लड़ते तो अच्छा होता

देवचरा स्थित आलमपुर जाफराबाद के रामदास इंटर कॉलेज में आयोजित रैली में पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत बाबा त्रिवटीनाथ और रामगंगा के पावन जल को नमन कर की। सबसे पहले सपा-बसपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि दो चरणों के बाद भाजपा के लिए उमड़ा समर्थन कुछ लोगों को पराजय स्वीकार करने को मजबूर कर रहा है। उनको गलती का अहसास हो गया है। अब सोच रहे हैं कि अकेले-अकेले लड़ते तो कुछ कहने को होता। अब उनका चेहरा लटक गया है। गठबंधन को महामिलावटी बताते हुए कहा कि इनके पास न तो कोई नीति है और न कोई एजेंडा। आरोप लगाया कि जब इनकी सरकारें थीं तो बरेली की मस्जिदों तक पर कब्जा कर लिया गया था।

कांग्रेस ने हिंदुओं पर आतंकी होने का ठप्पा लगयाया

प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि सभी को याद रखना होगा कि जब कांग्रेस और महामिलावटों की सरकारें थी तो आतंकवाद पर कैसे-कैसे खेल खेले गए थे। पाकिस्तान के आतंकवादी देश में धमाके करते थे और कांग्रेस के नेता हिन्दुओं पर आतंकवाद का ठप्पा लगाने में जुट जाते थे। दुनिया ने कभी भी हमारी महान संस्कृति पर उंगली नहीं उठाई। इन्होंने हिन्दुओं को बदनाम करने का घिनौना पाप किया है। कांग्रेस और उनके राजदरबारियों ने इस महान परम्परा को हिन्दू आतंकवाद के नाम पर टॉर्चर किया।

अब गालियां खाने की आदत हो गई है

उन्होंने विरोधियों को आड़े हाथ लेते हुए कहा, वे अब मेरे पिछड़ेपन का सर्टिफिकेट भी बांटने लगे हैं। मेरे पिछड़े होने का मजाक भी उड़ा रहे हैं। हर चुनाव में जब उन्हें पराजय दिखने लगती है तो यह खेल शुरू हो जाता है। कोई नीच बोलता है तो कोई गाली देता है। वैसे भी हम गरीबों और पिछड़ों को नामदारों की गालियां सुनने की आदत हो गई है, मुझे भी हो गई है।

-------------------

बॉक्स : बरेली का गुणगान

वीरों की भूमि

- पीएम मोदी ने कहा कि बरेली तो सैनिकों और शहीदों की धरती है। इनकी शौर्य गाथाओं का गुणगान दुनिया करती है।

संतों की कर्मभूमि

- बरेली नाथ संप्रदाय के संतों की कर्मभूमि रही है। इन महान सतों ने जात-पात का विरोध किया। सबको सम्मान देने के साथ सबको समान अधिकार देने की वकालत की।

मजबूत हो रहा इंफ्रास्ट्रक्चर

- रामगंगा नदी पर बन रहा है डैम। बरेली-कासगंज ट्रैक का दोहरीकरण का काम जारी है। लालफाटक पर फ्लाईओवर बन रहा है। बरेली से दिल्ली और लखनऊ तक की हवाई सेवा की संभावनाएं भी तलाशी जा रही है।

यह लोग रहे मौजूद

कार्यक्रम में बरेली के प्रत्याशी संतोष गंगवार, आंवला लोकसभा प्रत्याशी धर्मेद्र कश्यम, पीलीभीत लोकसभा प्रत्याशी वरुण गांधी, बदायूं लोकसभा प्रत्याशी संघमित्रा मौर्य, शाहजहांपुर लोकसभा प्रत्याशी अरुण सागर, मेयर उमेश गौतम, विधायक डॉ। अरुण कुमार, नवाबगंज विधायक केशर सिंह गंगवार, भोजीपुरा विधायक बहोरन लाल मौर्य बहेड़ी विधायक छत्रपाल सिंह, मीरगंज विधायक डीसी वर्मा, फरीदपुर विधायक डॉ। श्याम बिहारी, बिथरी चैनपुर विधायक राकेश मिश्रा और भजपा जिला अध्यक्ष रविंद्र सिंह राठौड़ आदि मौजूद रहे।

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.