वोट व नोट बटोरने की नियत से 40 सालों तक ओआरओपी मामला उलझा रहा पीएम

2019-04-06T06:00:19+05:30

- पीएम मोदी 3:34 मिनट पर मंच पर पहुंचे, करीब 35 मिनट का भाषण 4:18 मिनट पर हुआ पूरा

- मोदी बोले, 5 सालों की सेवा से आप खुश हैं, इजाजत लेने आया हूं, उत्तराखंड का चाहिए आशीर्वाद

>DEHRADUN: 11 अप्रैल को होने वाले राज्य की पांच लोक सभा सीटों के चुनाव से ठीक छह दिन पहले भाजपा कैंडिडेट्स के प्रचार के लिए दून पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने रैली में देवभूमि का बार-बार जिक्र किया। भगवान केदारनाथ का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि राज्य की जनता के सहयोग से ही वे पांच सालों के दौरान कड़े फैसले लेने पर सफल हो पाए। लेकिन पीएम के भाषणों में लगातार कांग्रेस निशाने पर रही। परेड ग्राउंड में हजारों की भीड़ को संबोधित करते हुए पीएम ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को ढकोसला पत्र करार दिया।

ढकोसला पत्र में सेना के जवानों के प्रति नफरत भरी पड़ी

दोपहर में परेड ग्राउंड में चुनाव सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य को चारधाम, हेमकुंड धाम व सैन्य धाम का संगम बताते हुए पहाड़ का पानी व जवानी का जिक्र करते हुए राज्य की भावनाओं को टच करने में कोई कोताही नहीं बरती। सैन्य बाहुल्य प्रदेश कहे जाने वाले राज्य के लिए उन्होंने वन रैंक वन पेंशन का जिक्र किया। कहा, ओआरओपी का मामला 40 सालों से लटका हुआ था। कांग्रेस का नाम लिए बगैर कहा कि ओआरओपी का मसला पहले ही सुलझ जाता, लेकिन जिनकी नियत में केवल वोट और नोट बटोरने की थी, उनकी वजह से यह मामला सॉल्व नहीं हो पाया। कांग्रेस के घोषणा पत्र को ढकोसला पत्र बताते हुए उन्होंने कहा कि सेना के जवानों के प्रति नफरत भरी पड़ी हुई है। कांग्रेस शासनकाल में हुए करप्शन में नामदार परिवार का नाम सबसे ऊपर रहा। कांग्रेस ने सेना तक को नहीं छोड़ा। बफोर्स व हेलीकॉप्टर का ऐसा सौदा है, जिसको खोज पाना मुश्किल हो जाता है। हेलीकॉप्टर घोटाले की दायर चार्जशीट में नाम आया है, उसमें एपी(अहमद पटेलल)व एफएमम(फैमिली)शामिल हैं। पीएम ने कहा कि अहमद पटेल पहले यहां के सीएम के भी खास रहे हैं और अहमद पटेल किस फैमिली के सबसे निकट हैं, आपको भी पता है। पीएम ने कहा कि इसी दलाली के चौकीदार की चौकीदारी के कड़े रवैए को वे बर्दास्त नहीं कर पा रहे हैं।

जरा-सी चूक, आप पर बोझ पड़ना तय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तीन दिन पहले जारी हुए ढकोसला पत्रा(चुनाव घोषणा पत्रा)को पढ़ेंगे तो पता चल जाता है कि हाथ किसके साथ है। ढकोसला पत्र में जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों को मिला सुरक्षा कवच हटाने का जिक्र है। ऐसे में कौन मां अपने बेटे को मरने के लिए सेना में भेजेगी। उन्होंने कहा कि ऐसी राजनीति के लिए लानत है। कोई ऐसा पाप नहीं कर सकता है। लेकिन कांग्रेस ऐसा चाहती है। जिस पार्टी ने देश में 60 वर्षो तक राज किया, वो देशद्रोह का कानून हटाने की बात कह रही है। उन्होंने कहा कि आखिर कांग्रेस को क्या हो गया। कहा, भारत के खिलाफ साजिश करता है, टुकड़े-टुकड़े होने की बात करता है, तिरंगे जलाए जाते हैं, अंबेडकर की मूर्ति खंडित करते हैं, विद्रोह करते हैं, इन पर मुकदमा दर्ज होना चाहिए या नहीं। पीएम ने कहा कि जब तक ये आपका चौकीदार है, तब तक एक ईट पर भी आंच नहीं आने देगा। कांग्रेस के ढकोसला पत्र के बारे में पीएम ने कहा कि पाक में बैठे लोग खुश हैं, जबकि कांग्रेस के गठबंधन के लोग जेएंडके का विभाजन चाहते हैं और वहां दूसरा प्रधानमंत्री भी। जबकि जम्मू व कश्मीर की सुरक्षा के लिए जवानों ने अपनी जान गंवा दी। मिडिल क्लास के लोग ही असली टैक्स पेयर हैं। जिनके टैक्स से ही चारधाम यात्रा मार्ग, बाबा केदारधाम का पुनर्निर्माण व ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे मार्ग का निर्माण हो पा रहा है। मोदी ने कहा कि आपका यह चौकीदार ईमानदार टैक्स पेयर का हृदय से आभारी है। यही वजह है कि सरकार ने 5 लाख आमदनी दायरे वालों को टैक्स में छूट दी है। कहा, जरा-सी चूक हुई तो आप पर बोझ पड़ना तय है।

प्रयाग से बेहतर होगा 2021 हरिद्वार महाकुंभ

पीएम ने कहा कि 2021 में हरिद्वार में होने वाले महाकुंभ का आयोजन बेहतर होगा। इसको कर दिखाना है। इसके लिए आपका आशीर्वाद जरूरी है। कहा, पहाड़ का पानी व जवानी काम आए, चौकीदार प्रतिबद्ध है। पीएम ने मंच से ही भारी भीड़ से पूछा कि पांच सालों की सेवा से आप खुश हैं.मुझे ऐसे काम करने चाहिएइजाजत लेने आया हूं। कहा, उत्तराखंड का आशीर्वाद चाहिए। आखिरी में उन्होंने मौजूद हजारों की भीड़ में लोगों के साथ एक स्वर में मैं भी चौकीदारआपभी चौकीदारबच्चे भी चौकीदारसभीचौकीदारकहा।

एक लाख 5 हजार करोड़ केंद्र सरकार ने उत्तराखंड को उपलब्ध कराए: सीएम

पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन से पहले सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कुछ पंक्तियां सुनाई। उन्होंने कहा उत्तराखंड की वीर भूमि पर बारंबार पधारें आप, बद्री-केदार दें आशीष, सदा विजयी रहें आप, श्रेष्ठ बनेगा भारत, ये सपना होगा साकार, देवभूमि की जनता देगी आपको वोटों का स्नेह अपार। सीएम ने कहा कि आज प्रदेश में ट्रिपल इंजन की सरकार काम कर ही है और प्रधानमंत्री के आशीर्वाद से तेजी से विकास हो रहा है। कहा, पीएम मोदी का मतलब है 12 हजार करोड़ की लागत से ऑल वेदर रोड, 16 हजार करोड़ की लागत से चारधाम रेल लाइन, भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत 12 हजार करोड़ से बनने वाले सड़कें, 37 हजार करोड़ की लागत से बनने वाली पंचेश्वर व लखवाड़ परियोजना, 9 करोड़ की लागत से नमामि गंगे प्रोजेक्ट व 15 करोड़ रुपए की लागत से ऑर्गेनिक खेती के प्रोजेक्ट हैं। इन सबको मिलाकर एक लाख 5 हजार करोड़ केंद्र सरकार ने उत्तराखंड को उपलब्ध कराए हैं। सीएम ने कहा कि राज्य की 5 सीटें जीतकर आपके हाथ मजबूत करने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

खूब भाया मोदी पर तैयार किया गया गाना

मोदी आएंगे डंके की चोट परनारे आएंगे मोदी-मोदी बोलकेकमल का बटन दबा, वोट पाएंगे दिल खोलकेयह गाना चुनावी सभा में बज रहा था तो मोदी को सुनने के लिए पहुंचे लोग जमकर थिरक रहे थे।

दो पूर्व सीएम नजर नहीं आए

मोदी की चुनावी सभा में भाजपा के जिन दो पूर्व सीएम का टिकट काटा गया। वे दोनों पूर्व सीएम बीसी खंडूडी व भगत सिंह कोश्यारी नजर नहीं आए। मंच पर पूर्व सीएम विजय बहुगुणा, काबिना मंत्री सतपाल महाराज, मदन कौशिक, राज्य मंत्री डॉ। धनसिंह रावत, मेयर सुनील उनियाल गामा, प्रदेश चुनाव प्रभारी थावर चंद गहलोत, टिहरी व हरिद्वार से पार्टी प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह व रमेश पोखरियाल निशंक, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष नरेश बंसल आदि शामिल रहे।

inextlive from Dehradun News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.