दसदस रुपये जोड़कर शहीदों के परिजनों को दिया 21 लाख

2019-03-09T11:10:44+05:30

- स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने जुटाया धन

- 21 लाख रुपये का चेक पीएम को सौंप पेश किया नजीर

varanasi@inext.co.in

VARANASI : देश पर जान न्यौछावर करने वाले वीर सपूतों के परिजनों के लिए स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने 10- 10 रुपये जोड़कर 21 लाख रुपये जुटाए हैं। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बड़ा लालपुर स्थित ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर में आयोजित समारोह में महिलाओं के पीएम नरेन्द्र मोदी को 21 लाख का चेक दिया। स्वंय सहायता समूह की महिलाओं ने आपस में चंदा जुटाकर यह धनरािश एकत्र की है। ग्रामीण एरिया में रहने वाली महिलाओं ने इस समूह से जुड़कर स्वालंबी बनने के साथ ही शहीदों के परिजनों के लिए इतनी रकम जुटायी है। पीएम नरेन्द्र मोदी ने मंच से सेल्फ हेल्प ग्रुप की जमकर तारीफ की है। कहा कि यह अभियान देश के लगभग 600 जिलों में फैल चुका है। छह करोड़ बहनें इस योजना से जुड़ चुकी हैं। एक बहन के जुड़ने का मतलब होता है कि पूरा परिवार जुड़ गया है। सरकार का प्रयास है कि ग्रामीण क्षेत्र की अधिक से अधिक महिलाओं को इस अभियान से जोड़ा जाए.

 

महिला ग्राम प्रधान ने किया प्रेरित

पीएम नरेन्द्र मोदी ने गुजरात की एक घटना की चर्चा की। बताया कि जब मैं गुजरात का सीएम था तो वहां के एक गांव की महिलाएं मिलना चाहती थीं। उस गांव में सबसे खास बात थी कि महिला ग्राम प्रधान कक्षा पांच उत्तीर्ण थी और अन्य महिलाएं पढ़ी नहीं थी। गांव में कोई पुरुष चुनाव नहीं लड़ा था सिर्फ महिला ही चुनाव जीतकर आयी थी। मैंने जब महिला ग्राम प्रधान से पूछा कि चुनाव जीतकर गांव में क्या काम करेंगी तो महिला ने कहा कि ऐसा काम करेंगे कि गांव में कोई गरीब न रहे। पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा कि महिला ग्राम प्रधान की बात आज भी मेरे लिए प्रेरणा बनी रहती है और मेरा प्रयास रहता है कि इतना काम किया जाये कि देश से गरीबी ही खत्म हो जाये.

inextlive from Varanasi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.