विश्वविद्यालय ने दिया एक और कुलपति

2019-06-26T06:01:01+05:30

सफर पर एक नजर

प्रो। संगीता श्रीवास्तव

पति: जस्टिस विक्रमनाथ, इलाहाबाद हाई कोर्ट

निवास: क्लाइव रोड

प्रारंभिक शिक्षा: सेंट मेरी स्कूल

इविवि में नियुक्ति: 1989 बतौर लेक्चरर

एयू से अब तक ये हुए कुलपति

1. प्रो। एमपी दुबे

उप्र राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय, प्रयागराज

2. प्रो। जीसी त्रिपाठी

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी

3. प्रो। अविनाश चंद्र पांडेय

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी

4. प्रो। राजाराम यादव

पूर्वाचल विश्वविद्यालय, जौनपुर

5. प्रो। आरकेपी सिंह

डॉ। शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय, लखनऊ

---------------

-इविवि के होम साइंस विभाग की हेड प्रो। संगीता श्रीवास्तव को गवर्नर ने प्रो। राजेन्द्र सिंह रज्जू भय्या विश्वविद्यालय का कुलपति नियुक्तकिया

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के लिए मंगलवार का दिन एक नई उपलब्धि लेकर आया। इविवि के होम साइंस विभाग की हेड प्रो। संगीता श्रीवास्तव को प्रो। राजेन्द्र सिंह रज्जू भइया विश्वविद्यालय का वीसी नियुक्त किया गया है। गौरतलब है कि इससे पूर्व भी इविवि के पांच प्रोफेसर अलग-अलग यूनिवर्सिटीज में कुलपति के पद तक पहुंचे हैं।

एकेडमिक एक्सीलेंस पर फोकस : प्रो। श्रीवास्तव

प्रो। राजेन्द्र सिंह रज्जू भय्या के दूसरे कुलपति के रूप में नियुक्त होने के बाद प्रो। संगीता श्रीवास्तव ने मंगलवार को ही कुलपति पद का कार्यभार संभाल लिया। कुलपति प्रो। राजेन्द्र प्रसाद ने प्रो। श्रीवास्तव को दायित्व सौंपा। पद संभालने के बाद प्रो। श्रीवास्तव ने कहा कि मंडल के अन्तर्गत आने वाले प्रयागराज, कौशांबी, प्रतापगढ़ व फतेहपुर में विश्वविद्यालय के 608 संघटक डिग्री कॉलेजों में उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार पर जोर दिया जाएगा। कॉलेजों में अध्ययन-अध्यापन के साथ छात्र-छात्राओं को दी जाने वाली मूलभूत सुविधाओं को और अधिक बेहतर किया जाएगा।

अधिकारियों ने किया स्वागत

प्रो। संगीता श्रीवास्तव द्वारा कार्यभार संभालने के बाद विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार शेषनाथ पांडेय व परीक्षा नियंत्रक विनीता यादव ने बुके देकर उनका स्वागत किया। इसके अलावा इविवि के एडमिशन सेल के डायरेक्टर प्रो। मनमोहन कृष्ण, प्रो। जावेद अख्तर, प्रो। राजीव सिंह, डॉ। अविनाश श्रीवास्तव ने प्रो। श्रीवास्तव का स्वागत किया।

बॉक्स

अब नए चेयरपर्सन की तलाश

प्रो। श्रीवास्तव होम साइंस विभाग की हेड होने के साथ ही एडमिशन कमेटी की चेयरपर्सन भी थीं। अब कुलपति के रूप में उनकी नियुक्ति के बाद प्रो। संगीता श्रीवास्तव की जगह विश्वविद्यालय की एडमिशन कमेटी के नए चेयरपर्सन की तलाश शुरू हो गई है। एडमिशन कमेटी के डायरेक्टर प्रो। मनमोहन कृष्ण के मुताबिक एडमिशन प्रक्रिया से संबंधित नीतिगत निर्णय लेने में चेयरपर्सन का अहम रोल होता है। अभी ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट में एडमिशन की प्रक्रिया कई दिनों तक चलेगी। इसलिए दो या तीन दिनों में नए चेयरपर्सन की नियुक्ति होने की उम्मीद है।

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.