अश्‍िवन ने वॉर्नर और ह्यूज को आउट किया

2013-03-04T18:01:02+05:30

मुरली विजय और चेतेश्‍वर पुजारा की जोड़ी ने इंडिया के लिए जीत की स्‍टेज तैयार कर दी है अब इंडियन बॉलर्स की बारी है अश्‍िवन ने कंगारुओं को शुरुआती झटके दे दिए हैं

चेन्‍नई टेस्‍ट में अपनी घूमती गेंदों से कमाल दिखाने वाले आर अश्‍िवन ने हैदराबाद की सेकेंड इनिंग में कंगारुओं पर हल्‍ला बोल दिया है. 266 रन से पिछड़ने वाली ऑस्‍ट्रेलियाई टीम को अश्‍िवन ने 2 झटके दिए. अश्‍िवन ने डेविड वॉर्नर और फिल ह्यूज को बोल्‍ड किया. डेविड वॉर्नर ने 26 रन बनाए जबकि ह्यूज खाता भी नहीं खोल पाए.
दूसरे दिन का खेल खत्‍म होने तक ऑस्‍ट्रेलिया ने 2 विकेट के नुकसान पर 74 रन बना लिए हैं. ओपनिंग बैट्समैन कोवान 26 रन बनाकर और शेन वॉटसन 9 रन बनाकर नाट आउट हैं.


बिखरा इंडिया का मिडिल ऑर्डर

ऑस्‍ट्रेलियाई स्‍िपन जोड़ी जेवियर डोहार्थी (3/130) और ग्‍लेन मैक्‍सवेल(4/127) के आगे टीम इंडिया 503 रन बनाकर ऑल आउट हो गई. फर्स्‍ट इनिंग के आधार पर टीम इंडिया को 266 रनों की अहम लीड मिली. पुजारा और मुरली के बाद इंडियन मिडिल ऑर्डर टिक कर बैटिंग नहीं कर पाया.
सिमटी इंडिया टीम
इंडिया ने 116 रन पर अपने 9 विकेट खो दिए. इतना ही नहीं धोनी(44) के आउट होने के बाद इंडिया ने केवल 43 रनों के अंदर अपने 5 विकेट खो दिए. मुरली विजय के आउट होने के बाद पिच पर पहुंचे सचिन कुछ खास नहीं कर सके और केवल 7 रन बनाकर पैटिंसन की बॉल पर लेग साइड में कीपर को कैच थमा बैठे. इसके बाद धोनी ने तेजी से रन बटोरते हुए केवल 43 बॉल में 44 रन ठोक डाले. कोहली 34 ने विकेट पर टिककर रन बनाने की कोशश की. इंडियन लोअर ऑर्डर में अश्‍िवन, जडेजा, हरभजन और भुवनेश्‍वर कुमार कुछ खास नहीं कर सके.
पुजारा की डबल सेंचुरी
दूसरे विकेट के लिए 370 रन जोड़ने के बाद मुरली विजय और चेतेश्‍वर पुजारा की जोड़ी अलग हुई. मुरली विजय 167 रन बनाकर ग्‍लेन मैक्‍सवेल की बॉल पर लेग स्‍िलप में कोवान के हाथों कैच आउट हुए. जबकि चेतेश्‍वर पुजारा 204 रन बनाकर जेम्‍स पैटिंसन की बॉल पर कैच आउट हुए. पुजारा ने अपने करियर का दूसरी डबल सेंचुरी पूरी की. पुजारा ने अपने 11 टेस्‍ट मैचों में 4 सेंचुरी और 1 हाफ सेंचुरी लगाई हैं. उनके नाम 2 डबल सेंचुरी भी हैं.
मुरली-पुजारा ने खोली कंगारुओं की पोल
मुरली विजय और चेतेश्‍वर पुजारा ने मिलकर ऑस्‍ट्रेलियाई बॉलिंग अटैक को एक्‍सपोज कर दिया. दिन भर के खेल में कभी ऐसा नहीं लगा कि ऑस्‍ट्रेलियाई अटैक इंडिया का कोई विकेट ले पाएगा. मुरली विजय ने अपनी 167 रनों की इनिंग के लिए 361 बॉल फेस कीं. इसमें उन्‍होंने 23 चौके और 2 सिक्‍स जड़े. वहीं 341 बॉल फेस कर 204 रन बनाने वाले पुजारा ने 30 चौके और 1 सिक्‍स जड़ा.
इंडियन बैटिंग का सुपर संडे
लग रहा है कि क्रिकेट में 'सुपर संडे' का दौर चल पड़ा है. पिछले संडे को धोनी ने अपने डबल धमाके से लोगों का भरपूर मनोरंजन किया था, तो इस बार पुजारा-मुरली ने अपनी शानदार सेंचुरी पार्टनरशिप से दर्शकों को मैक्सिकन वेव बनाकर झूमने पर मजबूर कर दिया. भारत-ऑस्ट्रेलिया दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज बारी-बारी से गेंद फेंकते रहे और चेतेश्वर पुजारा-मुरली विजय रन ठोकते रहे. सुबह सहवाग के छह रन पर आउट होने के बाद शुरू हुआ यह सिलसिला दिन का खेल खत्म होने तक चलता रहा.
 
तोड़ा ब्रैडमैन और बर्न्‍स का रिकॉर्ड
पुजारा और मुरली ने सेकेंड विकेट के लिए 370 रन की पार्टनरशिप कर ऑस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर सर डॉन ब्रैडमैन और सिडनी बर्न्‍स का 65 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया. पुजारा और विजय की पार्टनरशिप इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच सेकेंड विकेट के लिए नया रिकॉर्ड है. ब्रैडमैन और बर्न्‍स ने जनवरी, 1948 में एडिलेड में 236 रन की साझेदारी की थी. भारत की तरफ से ऑस्ट्रेलिया के अगेंस्‍ट दूसरे विकेट के लिए इससे पहले का रिकॉर्ड सुनील गावस्कर और मोहिंदर अमरनाथ के नाम पर था जिन्होंने 1986 में सिडनी में 224 रन जोड़े थे.
300 की पार्टनरशिप वाली 5वीं जोड़ी
विजय और पुजारा ने सेकेंड विकेट के लिए 370 रन की पार्टनरशिप कर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 300 या इससे अधिक रनों की पार्टनरशिप करने वाली पांचवीं भारतीय जोड़ी बनने का रिकॉर्ड बनाया. संयोग से विजय दूसरी बार ऑस्ट्रेलिया के अगेंस्‍ट 300 से अधिक की पार्टनरशिप की. इससे पहले विजय ने 2010 में सचिन तेंदुलकर के साथ बेंगलूर में 308 रन की पार्टनरशिप की थी. इंडिया की तरफ से ऑस्ट्रेलिया के अगेंस्‍ट 300 से अधिक रन की जो बाकी 3 पार्टनरशिप हुई हैं उन सभी में वीवीएस लक्ष्मण शामिल थे.



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.