IAF के लिए जानें कितना महत्वपूर्ण है राफेल विमान डील पर फिर राहुल ने साधा निशाना

2018-10-07T10:51:27+05:30

राफेल विमान डील को लेकर इन दिनों देश में घमासान मचा है। इस बीच ईस्टर्न एयर कमांड के प्रमुख एयर मार्शल ने भारतीय वायुसेना के लिए राफेल विमान की महत्ता बताई है। वहीं बता दें कल फिर राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर अंबानी पर निशाना साधा है।

नई दिल्ली (पीटीआई)। राफेल विमान डील को लेकर बीते कई दिनों देश की राजनीति में भूचाल सा आया है। विरोधी पार्टियां लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साध रही है। इस बीच शिलांग में एक कार्यक्रम में पूर्वी वायु सेना कमान प्रमुख एयर मार्शल आर नांबियार राफेल युद्धक विमान की खासियत बताई। उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना के लिए यह किसी गेमचेंजर से कम नहीं है। यह एक बेजोड़ विमान है। उन्होंने कहा कि दो सप्ताह पहले मुझे फ्रांस में इस विमान को उड़ाने का सुनहरा मौका मिला था। इस दौरान मेरा अनुभव बहुत खास था।  मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि यह उच्च क्षमता वाला एक बहुत अच्छा विमान है। इस क्षेत्र में इसकी मौजूदगी से हमें काफी मजबूती मिलेगी। साथ ही उन्होंने बताया कि बहुत जल्द पश्चिम बंगाल की कुछ इकाइयों को छोड़कर पूर्वी कमान की अन्य वायु सेना इकाइयों को राफेल सहित दो और हमलावर हेलीकॉप्टर मिलेंगे।

अनिल अंबानी पर ट्वीट करते हुए निशना साधा

वहीं बता दें कि कल ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे को लेकर एक बार फिर उद्योगपति अनिल अंबानी पर ट्वीट करते हुए निशना साधा है। राहुल ने कहा कि अगर कोई प्रधानमंत्री का 'बीएफएफ' ( बेस्ट फ्रेंड फाॅरइवर) है तो वह 1.3 लाख करोड़ रुपये की राफेल डील अासानी से कर सकता है। कांग्रेस अध्यक्ष गांधी ने शनिवार को किए गए ट्वीट में कहा कि जब आपका बीएफएफ प्रधानमंत्री है तो आप 1,30,000 करोड़ रुपये के राफेल सौदे को बिना किसी अनुभव के पूरा कर लेते हैं। इसके अलावा एक मामला और भी है। अब जम्मू-कश्मीर के 400,000 सरकारी कर्मचारियों पर केवल आपकी कंपनी से स्वास्थ्य बीमा लेने को कहा जाएगा। इसका खुलासा हाल ही में एक 'एक मीडिया रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू-कश्मीर सरकार ने रिलायंस जनरल इंश्योरेंस को चुना है। यह अंबानी रिलायंस कैपिटल समूह की एक सहायक कंपनी है।

राफेल डील : ओलांद बोले रिलायंस को लेकर दासौ ही दे सकती जवाब

राफेल डील : ओलांद के बयान से घिरी मोदी सरकार, केजरीवाल ने पीएम से पूछे तीन बड़े सवाल


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.