टीबी अभियान में मिल रहे रिकार्ड तोड़ मरीज

2018-09-11T06:00:21+05:30

टीबी अभियान के पांचवें दिन ही मिले 126 मरीज

MEERUT। घर- घर जाकर टीबी के मरीजों के ढूंढने के लिए चल रहे सक्रिय टीबी रोग खोज अभियान में इस बार मरीजों का रिकार्ड टूट रहा है। सर्वे में मिल रहे मरीजों की संख्या अब तक हुए सभी सर्वों में सबसे अधिक हैं। स्थिति यह है कि 10 दिन तक चलने वाले इस अभियान के पांच दिन में ही विभाग को सवा सौ से अधिक मरीज मिले हैं।

यह है स्थिति

टीबी के रोग से देश को मुक्त करने के लिए क्षय रोगी अभियान की शुरुआत इस सत्र में 4 सितंबर से की गई थी। इस बार अभियान के तहत डोर- टू- डोर सर्वे के तीन दिन के अंदर ही विभाग को 72 टीबी के पॉजिटिव मरीज मिले हैं जबकि 5 दिन में यह आंकड़ा 126 मरीजों पर पहुंच गया है। जबकि जनवरी 2018 में चले अभियान में 96 लोगों में टीबी पाया गया था। वहीं 2017 अगस्त में चले अभियान में 80 लोगों में टीबी पाया गया था।

पहले लोग आनाकानी करते थे

विभागधिकारियों का कहना कि अवेयरनेस के कारण अधिक से अधिक लोग जांच में सहयोग कर रहे हैं। जबकि पहले लोग स्पुटम चेक करवाने में काफी आनाकानी करते थे। विभाग की ओर से यह अभियान 14 सितंबर तक चलेगा।

446575 लोगों के बीच से खोजे जा रहे हैं टीबी मरीज

163 टीमें घर- घर सर्वे कर रही हैं

40 केंद्रों पर बलगम की जांच हो रही है

18 ट्रीटमेंट यूनिट हैं

12 नोडल अधिकारी इस अभियान के लिए तैनात किए गए हैं

34 सुपरवाइजर की देखरेख में यह अभियान चल रहा है

लगातार बढ़ रहे मरीज

2013- 6349

2014- 6302

2015- 6536

2016- 6698

2017- 6898

जनवरी से जुलाई 2018 तक 5057 मरीज मिले

टीबी को जड़ से खत्म करने के लिए शासन की ओर से लगातार अभियान चलाया जा रहा है। जागरूकता बढ़ी है, जिसकी वजह से लोग आगे बढ़कर जांच करवा रहे हैं।

डॉ। एमएस फौजदार, जिला टीबी अधिकारी, मेरठ

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.