पटना में फर्जी दस्तावेज बनाकर बेच दिया रिटायर्ड बैंक मैनेजर का फ्लैट अब दे रहा धमकी

2019-01-11T10:58:21+05:30

बैंक मैंनेजर ने फ्लैट खरीदकर ले लिया 20 लाख का लोन। रिटायर्ड बैंक मैनेजर को मिल रही जान से मारने की धमकी।

patna@inext.co.in
PATNA : शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र में एक रिटायर्ड बैंक मैनेजर के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। दरअसल जिस अपार्टमेंट में रिटायर्ड मैनेजर रहते थे उसी अपार्टमेंट के एक युवक ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर इलाहाबाद बैंक मैनेजर को फ्लैट बेच दिया। इसके बाद बैंक मैनेजर ने उसी फ्लैट के नाम 20 लाख रुपए का लोन ले लिया। मामले की जानकारी जब रिटायर्ड बैंक मैनेजर को हुई तो उसने विरोध किया। इसके बाद उसे जान से मारने की धमकी मिलने लगी। इंसाफ के लिए रिटायर्ड बैंक मैनेजर एसएसपी से लेकर आईजी कार्यालय तक चक्कर लगा रहा है लेकिन कहीं पर उसकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। रिटायर्ड बैंक मैनेजर का पूरा परिवार दहशत में है।
आरटेक अर्पाटमेंट में हुई ठगी
रांची निवासी अनिल प्रेम प्रकाश मिंज (59) पंजाब नेशनल बैंक में मैनेजर थे। 2015 में उन्होंने वीआरएस ले लिया था। नौकरी के दौरान ही उन्होंने 1992 को मेसर्स आरटेक बिल्डर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड से आरटेक अपार्टमेंट सलेमपुर डुमरा में चौथे मंजिल पर 406-बी फ्लैट बुक किया। रिटायर्ड मैंनेजर ने बताया कि ये फ्लैट 1 लाख 80 हजार में मुझे मिला। फ्लैट का पूरा रुपया चुकाने के बाद ये फ्लैट का पजेशन मुझे मिल गया। इसके बाद 30 हजार रुपए और जमा कराने के बाद पार्किंग भी मेरे नाम हो गया।
बिना अनुमति बेच दिया
रिटायर्ड बैंक मैनेजर ने बताया कि मैं जिस अपार्टमेंंट में रहता था। उसी अपार्टमेंट में रमेश नारायण जयसवाल नाम का युवक रहता था। उसी ने फर्जी लाइसेंस बना दिया। इसके साथ उस अपार्टमेंट की डायरेक्टर राखी का भी फर्जी वोटर आईडी तैयार कर दिया और मेरा फर्जी हस्ताक्षर कर इलाहाबाद बैंक के मैनेजर को उस फ्लैट को बेच दिया।
बना लिया था फर्जी लाइसेंस
रिटायर्ड बैंक मैनेजर ने बताया कि मैं जिस अपार्टमेंंट में रहता था। उसी अपार्टमेंट में रमेश नारायण जयसवाल नाम का युवक रहता था। उसी ने फर्जी लाइसेंस बना दिया। इसके साथ उस अपार्टमेंट की डायरेक्टर राखी का भी फर्जी वोटर आईडी तैयार कर दिया और मेरा फर्जी हस्ताक्षर कर इलाहाबाद बैंक के मैनेजर को उस फ्लैट को बेच दिया।

गाली-गलौच कर मुझे भगा दिया

रिटायर्ड मैनेजर ने बताया कि जब मुझे इसकी जानकारी मिली तो मैं रमेश नारायण से पूछताछ करने गया। मुझे वो गाली-गलौच करने लगा और जान से मारने की धमकी देने लगा। मैं काफी डर गया था।

ISIS के नए मॉड्यूल पर कसा शिकंजा, NIA ने दिल्ली व अमरोहा में आतंकियों के खंगाले ठिकाने


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.