लालू के बेटे तेजप्रताप ने ऐश्वर्या से मांगा तलाक 5 महीने में ही आई रिश्‍ते में दरार!

2018-11-02T09:05:34+05:30

सिर्फ पांच महीने पहले हुई थी तेजप्रताप और ऐश्वर्या की शादी पत्नी पर लगाया प्रताडना का आरोप। बिहार के पूर्व सीएम दारोगा प्रसाद राय की पौत्री हैं ऐश्वर्या राय।

patna@inext.co.in
तमाम तरह की मुश्किलों में घिरा राजद प्रमुख लालू प्रसाद का परिवार अबकी पारिवारिक विवादों में घिर गया है। लालू यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव ने पटना सिविल कोर्ट में पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक के लिए अर्जी दी है। दोनों की इसी साल 12 मई को शादी हुई थी। काफी दिनों से दोनों में पटरी नहीं बैठ रही थी। विवाद इस कदर बढ़ गया है कि महज पांच महीने के भीतर अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ गया।

पत्‍नी पर लगाया है प्रताड़ना का आरोप
तेजप्रताप ने याचिका में ऐश्वर्या पर प्रताडऩा का आरोप लगाया है और कहा है कि अब वह साथ नहीं रहना चाहते हैं। तलाक की अर्जी देने के बाद तेजप्रताप, लालू प्रसाद से मुलाकात के लिए रांची रवाना हो गए. लालू अभी रांची स्थित रिम्स में इलाज करा रहे हैं। ऐश्वर्या बिहार के पूर्व सीएम दारोगा प्रसाद राय की पौत्री एवं पूर्व मंत्री चंद्रिका राय की पुत्री हैं।

लालू परिवार के करीबी सदस्य की ओर से इसकी पुष्टि कर दी गई है। पटना सिविल कोर्ट में शुक्रवार को दायर याचिका का नंबर 1208 है। इसके पहले तलाक की अर्जी के बारे में लालू परिवार की ओर से कोई कुछ बताने को तैयार नहीं था। राजद विधायक और दोनों परिवार के नजदीकी भाई वीरेंद्र ने साफ इनकार करते हुए मीडिया को बयान दिया कि लालू परिवार में सबकुछ अच्छा है। हालांकि सियासी सुर्खियां बनते ही परिवार की ओर से किसी तरह का खंडन नहीं किया गया।

राबड़ी और मीसा की पसंद थीं ऐश्वर्या
दिल्ली विश्वविद्यालय से मैनेजमेंट की पढ़ाई पूरी कर चुकीं ऐश्वर्या राय को तेजप्रताप की मां राबड़ी देवी और बड़ी बहन मीसा भारती ने अपनी पसंद से घर की बहू बनाने की रजामंदी दी थी। लालू प्रसाद तब चारा घोटाले के मामले में रांची जेल में बंद थे। राबड़ी की पसंद पर बाद में उन्होंने भी रजामंदी दे दी थी।

चल रही थी अनबन
शादी के बाद तेज प्रताप और ऐश्वर्या बहुत कम मौके पर ही साथ-साथ दिखे। आखिरी समय दोनों को मुंबई में एक साथ देखा गया था। दोनों मुंबई के एशियन हर्ट अस्पताल में भर्ती लालू को देखने साथ-साथ गए थे। उसके बाद दोनों को कभी एक साथ नहीं देखा गया।

सिविल कोर्ट में होगी सुनवाई
पटना व्यवहार न्यायालय ने तेजप्रताप की तलाक की अर्जी स्वीकार कर ली है। इस मामले में दायर वाद संख्या 1208/18 की सुनवाई प्रिंसिपल जज करेंगे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.