निर्भया फंड से लखनऊ बनेगी सेफ सिटी बढ़ेंगी महिला पुलिसकर्मी

2018-08-28T11:31:31+05:30

भारत सरकार द्वारा निर्भया फंड के तहत राजधानी लखनऊ को सेफ सिटी बनाने की कवायद शुरू हो गयी है।

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : राज्य सरकार द्वारा सोमवार को पेश किए गये अनुपूरक बजट में इसके लिए 30 करोड़ रुपये की धनराशि दी गयी है। इसके जरिए राजधानी में सुरक्षा बंदोबस्त पुख्ता किए जाएंगे ताकि महिलाओं को सुरक्षा का बेहतर माहौल दिया जा सके। साथ ही पुलिस थानों में महिला पुलिसकर्मियों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी। इसका प्रस्ताव एडीजी वीमेन पावर लाइन अंजू गुप्ता ने तैयार किया है जिसे राज्य सरकार ने मंजूरी देने के साथ बजट भी दे दिया है।
लोकसभा चुनाव के लिए भी दी रकम
दरअसल अनुपूरक बजट में गृह विभाग को 957.53 करोड़ रुपये दिए गये हैं। इसमें अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए सौ करोड़ रुपये का बंदोबस्त भी किया गया है। साथ ही पुलिसकर्मियों के लिए आवास बनाने को 250 करोड़ की धनराशि दी गयी है। गृह विभाग को दिए गये बजट का 433 करोड़ का बड़ा हिस्सा जिला पुलिस मुख्यालय के वेतन मद में चला जाएगा। वहीं अति विशिष्ट महानुभावों की सुरक्षा फ्लीट के वाहन खरीदने और पेट्रोल इत्यादि के लिए 18.13 करोड़ रुपये दिए गये है। कुंभ मेले में सुरक्षा इंतजामों के लिए राज्य सरकार ने 150 करोड़ रुपये गृह विभाग को दिए है। वहीं बच्चों और युवाओं को नशे से बचाने के लिए 13 करोड़ रुपये जागरूकता फैलाने में खर्च किए जाएंगे।
बढ़ गया होमगार्डों का मानदेय
अनुपूरक बजट में होमगार्ड संगठन को दिए गये बजट के बाद होमगार्ड स्वयंसेवकों को मानदेय 500 रुपये प्रतिदिन करने का शासनादेश जारी हो गया। ध्यान रहे कि हाल ही में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने होमगार्डों के मानदेय में 125 रुपये प्रतिदिन की बढ़ोतरी करने का ऐलान किया था।
इसके लिए भी दिया बजट
- 26.52 करोड़ एसडीआरएफ के उपकरणों की खरीद के लिए
- 1.16 करोड़ मादक नशीले पदार्थों की रोकथाम को सर्विलांस कम इंट्रोगेशन रूम बनाने को
- 4.90 करोड़ साइबर क्राइम प्रिवेंशन अगेंस्ट वीमेन एंड चिल्ड्रन के लिए
- 28.01 करोड़ सेंट्रल विक्टिम कंपनशेसन फंड स्कीम के तहत तेजाब हमले, बलात्कार, मानव तस्करी तथा हत्या आदि के लिए
- 20 करोड़ डायल 100 योजना के विभिन्न मदों के लिए
- 10 करोड़ भारत सरकार द्वारा विकसित एम-पासपोर्ट एप के लिए

डालीगंज रोड बनेगी स्मार्ट, 10 चौराहों का भी होगा सौंदर्यीकरण

1 सितंबर से इंश्योरेंस बढ़ाएगा वाहनों की कीमत!


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.