320 करोड़ से मानगो में बनेगा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

2019-06-19T06:00:55+05:30

JAMSHEDPUR: मानगो नगर निगम क्षेत्र में जमीन न मिलने के चलते पिछले 10 साल से अटके 320 करोड़ की लागत से बनने वाले सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाने का रास्ता साफ हो गया। मंगलवार को फिलीपींस और झारखंड अर्बन रेजीलेंस एंड लिवेबिलिटी प्रोजेक्ट के पदाधिकारी, एशिया विकास बैंक, जुडको, (टीसीई) टाटा कंसल्टिंग इंजीनियर्स के पदाधिकारियों ने चिन्हित जमीन का मुआयना किया इस दौरान पदाधिकारियों ने रामनगर में रहने वाले लोगों से बात की। निरीक्षण के बाद एशिया विकास बैंक के अधिकारियों ने जुडको को जल्द से जल्द काम शुरू करने का सुझाव दिया। मानगो अक्षेस के विशेष पदाधिकारी राजेंद्र प्रसाद गुप्ता ने बताया कि कि कपाली में 18 एमएलडी, बालीगुमा में 15 एमएलडी और रामनगर में 10 एमएलडी क्षमता का प्लांट स्थापित होगा। एसटीपी पंप हाउस के लिए नया आजादनगर थाना कपाली के पास जमीन चिन्हित है। बताते चले कि मानगो अक्षेस ने सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाने के लिए जमीन चिन्हित कर विभाग को भेजा था। इस मौके पर नगर प्रबंधक एस रहमान, एशिया विकास बैंक की टीम में संजय जोशी, रेहलाडा डी, सुसलेन, संजय मालू, अन्ना थरेसा, कालीशंकर घोष, अभिजीत घोष, जुडको से उत्कर्ष मिश्रा, रामाशीष रजक, मिलिंद सेहरा, मृणाल एवं प्रसांत टोप्पो आदि मौजूद रहे।

10 साल से लटकी योजना

मानगो में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए जमीन न मिलने से लगभग 10 साल से योजना लटकी हुई है। अधिकारियों ने इसके लिए कई बार डीपीआर बनाकर तैयार किया गया। लेकिन जमीन नहीं मिलने से योजना धरातल पर नहीं उतर सकी। नगर विकास विभाग ने मानगो में एसटीपी की निर्माण के लिए जिला प्रशासन से 2010 से जमीन की मांग कर रहा है। 2018 में कपाली पर चिहिन्त जमीन के बीच में रैयती जमीन आने से अधिकारियों ने योजना के लिए अन्य स्थान पर जमीन चिन्हित करने को कहा था। अब चूंकि जमीन चिन्हित हो गयी है, जिसको देखते हुए जल्द ही काम शुरू किया जाएगा।

43005 घरों को मिलेगा लाभ

मानगो में ड्रेनेज एवं सीवरेज सिस्टम से 43005 घरों को लाभ मिलेगा। 320 करोड़ रुपये की इस योजना की शुरुआत अगले तीन महीने में कर दी जाएगी। ड्रेनेज एवं सीवरेज सिस्टम का कुल नेटवर्क क्षेत्र 187 किलोमीटर होगा। अगले तीस साल की आबादी को देखते हुए इस योजना का डिजायन तैयार किया गया है। मानगो में बनने वाले ड्रेनेज एवं सीवरेज सिस्टम की कुल क्षमता 43 एमएलडी प्रतिदिन होगी। यह योजना अगले दो साल में जमीन पर दिखाई देने लगेगी। इससे मानगो में कहीं गंदगी नजर नहीं आएगी।

inextlive from Jamshedpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.