स्मार्ट सिटी में संडे यानि गंदगी और कूड़े का दिन

2018-09-24T06:01:19+05:30

- एक दिन में होता है 300 मैट्रिक टन कूड़ा

- छुट्टी मनाते है सफाई कर्मचारी

बरेली: संडे यानि कूड़ा कचरा और गंदगी का दिन यह कोई कहावत नही बल्कि बरेली का एक सच है। यहां संडे के दिन सड़कों पर न तो झाडू लगती है और न कूड़ा कचरा उठता है। वहीं छुट्टी में अफसर इतने मशगूल है कि उन्हें यह भी नहीं पता कि संडे को सफाई क्यों नही होती। इसी का नतीजा है कि पूरे शहर की सड़कें और नाली- नाले सब कूड़े से पटे पड़े है।

डेली 350 मीट्रिक टन कूड़ा होता है जेनरेट

शहर में रोजाना 350 मीट्रिक टन कूड़ा जेनरेट होता है, जिसे नगर निगम उठा नहीं पाता है। ऊपर से संडे की छुट्टी शहर पर भारी पड़ जाती है। डेली के जमा कचरे के इतर साढ़े तीन सौ मीट्रिक टन कचरा नाली- नालों में पटने का जुगाड़ हो जाता है। इस तरह महीने में करीब 1400 मीट्रिक टन कचरा नाली- नालों में पट रहा है, जो शहर में जलभराव का प्रमुख कारण बना हुआ है.

वीकेंड पर सांस लेना दूभर

वीकेंड पर लोग आराम फरमाना चाहते हैं, तो नगर निगम के अफसर लोगों को सांस नहीं लेने देते हैं। क्योंकि घर से बाहर निकले नहीं कि गली के मोड़ और कूड़ेदान के पास सड़ांध दूर तक पीछा करती है।

फैक्ट्स एंड फिगर

कुल सफाईकर्मी - 1950

सफाई नायक - 25

सफाई निरीक्षक - 7

कुल गाडि़यां - 166

टोटल डस्टविन - 300

पार्षदों का क्या कहना है

जब इस बारे में अलग अलग वार्डो के पार्षदों से बात की गई तो उन्होंने इस संबध में क्या क्या बात की गई आइए बताते है

सफाई व्यवस्था तो सभी दिन होनी चाहिए। लेकिन ऐसा नही होना चाहिए की एक ही दिन सभी कर्मचारी छुट्टी करके बैठ जाए। सभी कर्मचारियों को अल्टरनेट तरीके से छुट्टी पर रहना चाहिए। इस बारे में नगर निगम को सोच कर एक कार्यकारणी तैयार करनी चाहिए।

पार्षद, राजेश अग्रवाल

सच बात तो यह है कि नगर निगम खुद कर्मचारियों से काम कराना नहीं चाहता। वरना यह कोई वजह नही है कि छुट्टी के दिन शहर में सफाई नही होगी। सफाई एक नियमित व्यवस्था है। जो रोज होनी चाहिए। नगर निगम की छुट से ही सफाईकर्मी सफाई नहीं करते।

पार्षद, शालिनी जौहरी

सभी कर्मचारी संडे की छुट्टी मानते है तो सफाई कर्मचारी भी मनाते है। लेकिन ऐसा नही होना चाहिए। नगर निगम को इसकी अल्टरनेट व्यवस्था होनी चाहिए। जिससे शहर में गंदगी न फैले

पार्षद, सतीश कातिब

इस बारे में तो नहीं पता कि संडे को कूड़ा क्यों नही उठाया जाता है। मुझे भी बस इतना ही पता है कि संडे को कूड़ा नहीं उठता है। इसके बारे में पता कर संडे को भी सफाईकर्मियों की ड्यूटी लगाऊंगा.

अब्बास अली, नगर स्वास्थ्य अधिकारी

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.