बरेली एग्जाम में मॉडल पेपर लेकर पहुंची छात्रा सीसीटीवी से खुली पोल

2019-02-23T09:06:09+05:30

- फिजिक्स की परीक्षा के दौरान क्लास रूम में रखे बैग में मिला मॉडल पेपर

- जेडी ने नकल की आशंका पर स्पेशल स्क्रीनिंग के लिए बोर्ड को भेजी रिपोर्ट

BAREILLY: सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद भी नकल माफिया यूपी बोर्ड परीक्षाओं में सेंधमारी करने से नहीं चूक रहे हैं। ऐसी ही सूचना पर जेडी माध्यमिक शिक्षा प्रदीप ने बहेड़ी के श्री सालिकराम एसबीएम इंटर कॉलेज भिलैईया परीक्षा केंद्र पर छापेमारी की। इंटरमीडिएट की फिजिक्स की परीक्षा के दौरान परीक्षा कक्ष से सटे कमरे में छात्रा का बैग रखा मिला, जिसमें भौतिक विज्ञान का मॉडल पेपर व नोट बुक मिली। इसके बाद सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो पिछले दिनों हो चुकी हाईस्कूल की अंग्रेजी की परीक्षा के दौरान भी परीक्षा केंद्र पर गतिविधियां संदिग्ध मिली। जिस पर उन्होंने इन दोनों परीक्षाओं की स्पेशल स्क्रीनिंग करने की संस्तुति बोर्ड को कर दी। इसके साथ ही उन्होंने इस परीक्षा केंद्र के केंद्र व्यवस्थापक को तत्काल बदलने के आदेश डीआईओएस को दिए। कापियों के मूल्यांकन के बाद नकल की पोल खुलने पर बड़ी कार्रवाई की अफसरों ने बात कही है.

सीसीटीवी चेक करते ही पकड़ में आया मामला
दरअसल इस परीक्षा केंद्र पर काफी दिनों से गड़बड़ी की शिकायतें मिल रहीं थी, जिसकी वजह से यह केंद्र अफसरों के निशाने पर था। फ्राइडे को क्लास 12 की फिजिक्स की परीक्षा थी, जिसमें जेडी डॉ। प्रदीप कुमार जांच के लिए पहुंचे। उन्होंने कॉलेज में लगे सीसीटीवी कैमरों की की फुटेज देखीं तो रूम नंबर 13 से सटे कमरे में एक बैग रखा दिया दिया। इसके बाद उन्होंने बैग की तलाशी ली तो उसमें भौतिक विज्ञान के मॉडल पेपर, एक नोट बुक और पूर्व में हो चुकी कैमिस्ट्री, सामान्य ¨हदी की परीक्षा के प्रश्नपत्र भी थे। प्रश्नपत्रों पर परीक्षार्थी छात्रा का नाम लिखा था। जिस कक्ष में संदिग्ध बैग मिला उसका एक दरवाजा उस कक्ष से जुड़ा था, जिसमें फ्राइडे को फिजिक्स के परीक्षार्थी बैठे थे.

छात्रा ने बैग लाने की बात कबूली
बैग में मिले प्रश्नपत्रों के आधार पर जेडी छात्रा तक पहुंचे। जेडी ने छात्रा परीक्षार्थी से पूछताछ की तो उसने रोजना बैग लाने की बात कबूली.

कोड के अनुसार नहीं वितरित मिली कापियां
भौतिक विज्ञान की परीक्षा में परीक्षार्थियों को वितरित की गई कापियां अंकित कोड के अनुसार नहीं मिलीं, जिस पर उन्हें संदेह हुआ। उन्होंने केंद्र व्यवस्थापक से पूछताछ की तो वह कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे सके.

वर्जन- -

शिकायत पर केंद्र पर पहुंचे थे। जिन परीक्षाओं के दौरान गतिविधियां संदिग्ध मिली। उनकी कापियां की स्पेशल स्क्रीनिंग कराई जाएगी, जिसकी रिपोर्ट में नकल की आंशका सही साबित होने पर कड़ी कार्रवाई होगी। फिलहाल केंद्र व्यवस्थापक को बदला जा रहा है.

डॉ। प्रदीप कुमार, जेडी.

1604 ने छोड़ी फिजिक्स की परीक्षा
फ्राइडे को पहली पाली में हाईस्कूल चित्रकला के 47899 स्टूडेंट रजिस्टर्ड थे, जिसमें से 42591 स्टूडेंट्स ही परीक्षा में शामिल हुए। इसी पाली में इंटरमीडिएट की चित्रकला की परीक्षा में 12385 स्टूडेंट रजिस्टर्ड थे, जिसमें से 1114 परीक्षार्थी ही शामिल हुए। वहीं दूसरी पाली में हुई हाईस्कूल की कॉमर्स विषय की परीक्षा में 1333 परीक्षार्थियों को शामिल होना था जिसमें से मात्र 1255 छात्रों ने ही परीक्षा दी। जबकि इंटरमीडिएट की फिजिक्स की परीक्षा में 17707 में से 16103 परीक्षार्थियों ने ही परीक्षा दी.

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.