Chrome यूजर्स के लिए वार्निंग यह पॉपुलर ब्राउजर टूल आपके हर ऑनलाइन काम की कर रहा है चोरी!

2018-07-07T03:09:40+05:30

आजकल ऑनलाइन यूजर्स के लिए डाटा प्राइवेसी बहुत बड़ा इश्‍यू बनता जा रहा है। कभी Google तो कभी Facebook जेसे मोस्‍ट पॉपुलर प्‍लेटफॉर्म पर कोई थर्ड पार्टी डेवलपर कभी भी हमारे आपके डेटा और पर्सनल एक्‍टीविटी को देखने और चोरी करने लगता है। फिलहाल ताजा मामला Google Chrome से जुड़ा हुआ है।

यह पॉपुलर ब्राउजर एक्‍सटेंशन चोरी कर रहा है आपके हर काम का रिकॉर्ड

कानपुर। गूगल क्रोम और मॉजिला फायरफॉक्स यूज करने वाले यूज़र्स की पूरी ऑनलाइन हिस्ट्री और एक्‍टीविटीज थर्ड पार्टी डेवलपर्स और हैकर्स के द्वारा चोरी की जा रही है। जी हां डेलीमेल ने एक प्रमुख सिक्योरिटी रिसर्चर के हवाले से बताया है कि उन्‍हें एक ऐसा पॉपुलर ब्राउजर एक्‍सटेंशन मिला है जो कि यूजर द्वारा ब्राउजर पर की जा रही हर छोटी बड़ी चीज और एक्‍टीविटी को रिकॉर्ड कर रहा है और किसी थर्ड पार्टी हैकर को दे रहा है।

1.8 मिलियन यूजर्स कर रहे हैं स्टाइलिश का इस्‍तेमाल जो पिछले एक साल से डेटा कर रहा चोरी

स्टाइलिश नाम का यह क्रोम एक्सटेंशन पिछले करीब डेढ़ साल से यूजर्स की ऑनलाइन डिटेल्स को रिकॉर्ड कर रहा है। फेमस अमरीकी ऑनलाइन रिसर्चर रॉबर्ट हीटन ने अपने ऑफिशियल ब्‍लॉग रिपोर्ट में बताया है कि इस एक्सटेंशन को करीब 1.8 मिलियन यूज़र्स इस्तेमाल कर रहे हैं। बता दें कि यह ब्राउजर एक्‍सटेंशन यूजर्स को अपने वेब पेज की स्टाइल और डिसप्‍ले को बदलने का फीचर देती है। यूजर इसे इस्तेमाल तो इसके फीचर की वजह से कर रहे हैं लेकिन सच में यह क्रोम एक्सटेंशन कुछ स्पाईवेयर द्वारा हाईजैक किया जा चुका है। इस कारण अगर आपके ब्राउज़र पर भी यह एक्सटेंशन लगा है तो मान लीजिए कि आपकी तमाम ऑनलाइन एक्टिविटीज, फाइनेंसियल ट्रांजैक्शन आदि से जुड़ी डिटेल्स किसी हैकर्स के पास मौजूद हो सकती हैं।

क्रोम और फायरफॉक्‍स ने हटा दिया स्‍टाइलिश एक्‍सटेंशन

द रजिस्‍टर ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि जनवरी 2017 में जब स्टाइलिश नाम के इस क्रोम एक्सटेंशन को किसी दूसरी वेब कंपनी द्वारा खरीदा गया था तभी से एक्सटेंशन लोगों की ऑनलाइन डिटेल्स और पूरी ब्राउजिंग हिस्‍टी रिकॉर्ड को हर पल रिकॉर्ड कर रहा है। रॉबर्ट हीटन ने अपने ब्लॉग पर लिखा है कि स्टाइलिश नाम का यह क्रोम ब्राउजर एक्सटेंशन यूजर के ऑनलाइन अकाउंट से जुड़ी हर तरह की एक्टिविटीज, पर्सनल ब्राउजिंग सभी को यूनीक आइडेंटिफिकेशन के साथ रिकॉर्ड करता है और अपने सर्वर को भेजता रहता है। इस डेटा से हैकर अलग-अलग व्यक्ति और उसके ट्रांजैक्शंस के बारे में आसानी से जान सकते हैं। फिलहाल अच्‍छी खबर यह है कि स्टाइलिश नाम के इस एक्‍सटेंशन के कारनामों के बारे इतना कुछ जानने के बाद क्रोम और फायरफॉक्‍स ने इसे तत्‍काल प्रभाव से रिमूव कर दिया है। अगर आपके ब्राउजर पर ये एक्‍सटेंशन अब भी मौजूद हैं, तो फौरन उसे रिमूव कर दीजिए।

अब स्मार्टफोन की पूरी स्क्रीन ही बन जाएगी फिंगर सेंसर! इस टेक्‍नोलॉजी का है कमाल

कार के बाद स्मार्टफोन के लिए भी आ गए एयरबैग, जो उसे टूटने नहीं देंगे

Gmail यूजर्स सावधान! थर्ड पार्टी डेवलपर्स पढ़ रहे हैं आपकी प्राइवेट इमेल्स, हुआ खुलासा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.