मौसम आसमान से बरसी आग मई में 10 वर्ष के उच्चतम स्तर पर तापमान

2019-05-31T11:25:38+05:30

लगातार बढ़ता तापमान रोज नए रिकॉर्ड बनाता जा रहा है गुरुवार को राजधानी में अधिकतम तापमान मई माह में पिछले 10 वर्ष के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: लगातार बढ़ता तापमान रोज नए रिकॉर्ड बनाता जा रहा है। गुरुवार को राजधानी में अधिकतम तापमान मई माह में पिछले 10 वर्ष के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को सामान्य से तापमान पांच डिग्री अधिक 44.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। इससे पहले मई 2018 में भी अधिकतम तापमान 44.8 डिग्री सेल्सियस पहुंच चुका है।

गर्म हवा ने किया परेशान
पिछले कई दिनों से तापमान 43 डिग्री से अधिक चल रहा है। गुरुवार को भी सुबह से ही भीषण गर्मी जारी थी। दोपहर में गर्म हवाओं के थपेड़े लोगों को परेशान करते नजर आए। मौसम विभाग के अनुसार दिन का अधिकतम तापमान 44.8 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से पांच डिग्री अधिक था। वहीं न्यूनतम तापमान भी सामान्य से एक डिग्री अधिक 26.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

45 से अधिक होगा तापमान
मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिनों तक तापमान 45 डिग्री से ऊपर जा सकता है। साथ ही गर्म हवाओं के थपेड़े परेशान कर सकते हैं। कई दिनों तक ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना है।

बच्चों को गर्मी से करें बचाव
ठाकुरगंज संयुक्त चिकित्सालय के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ। कपिल सिंह वर्मा ने बताया कि घर और बाहर के तापमान में बहुत अधिक अंतर है। सभी को गर्मी में सावधानी बरतने की आवश्यक्ता है। बच्चों का खास ध्यान रखें। गर्मी से बचाने के लिए उन्हें तेज धूप में बाहर ले जाने से बचें। जरूरी हो तो छाता लेकर ही बाहर जाएं। खूब पानी पिएं और मौसमी फल जैसे खीरा, ककड़ी, तरबूज का इस्तेमाल करें। गर्मी बढ़ने के साथ बैक्टीरिया ज्यादा ग्रो करते हैं जिससे इंफेक्शन का खतरा बना रहता है। अगर डायरिया जैसी समस्या हुई तो दिक्कत बढ़ सकती है। लूज मोशन की दशा में तुरंत डब्ल्यूएचओ वाला ओआरएस पिलाएं, बच्चा छोटा है तो लूज मोशन में भी उसका दूध नहीं बंद करना है। बड़ा है तो भी उसका खाना पीना बंद नहीं करें। डाक्टर से भी कंसल्ट कर लें।

गर्मी से बचने के उपाय-

- ज्यादा धूप में न निकलें, बाहर निकलना जरूरी हो तो अपने काम सुबह 10 से पहले और शाम 5 के बाद करें।

-पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर निकलें ताकि शरीर में पानी की कमी न हो।

-कच्चे आम का शर्बत यानी आम का पना, बेल या नींबू का शर्बत पिएं, लेकिन ये सब घर का बना हो।

-अपनी पानी की बोतल साथ रखें, और थोड़ी थोड़ी देर में पीते रहे।

-दिन में खाली पेट बाहर नहीं निकले। घर से निकलने के पहले कुछ खाकर निकले।

-धूप में निकलने से बचें, जरूरी होतो पूरी बांह के ढकने वाले हल्के रंगों के कपड़े पहने।

-तरबूज, खीरा ककड़ी जैसे मौसमी फलों का प्रयोग करें।

-कॉटन के फुल बांह के कपड़े पहनकर ही निकले।

-आखों पर सनग्लासेज ओर स्किन में सनस्क्रीन क्रीम का भी प्रयोग करें।

पिछले कुछ वर्षो में अधिकतम तापमान

वर्ष अधिकतम तापमान

2018 44.8

2017 44.7

2016 44.4

2015 44.7

2014 44.3

2013 43.9

2012 44.7

2011 43.1

- तापमान डिग्री सेल्सियस में


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.