टेम्प्रेचर बढ़ने के साथ शुरु हो गई बिजली कटौती

2019-06-03T06:00:57+05:30

आगरा। शहर में सूरज सितम ढा रहा है। टेम्प्रेचर 46 डिग्री सेल्सियस के पार है। लोग पसीने से तर-बतर हो रहे हैं, ऐसे में बिजली कटौती लोगों की मुसीबत को और बढ़ाने का काम कर रही है। बीती रात शहर के कई इलाकों में घंटों बिजली गुल रही। यहां तक कि टोल फ्री नं 1912 से भी कोरा आश्वासन ही मिला.लोग घंटों गर्मी में पसीने से तर-बतर होते रहे।

इन इलाकों में रही बिजली गुल

शहर के पीपी नगर सिकंदरा कैलाश मोड़, रोहता, राजपुर, जगदीशपुरा, गढ़ी भदौरिया, एत्माद्दौला, नाई की मंडी, कालिन्दी विहार, समेत शहर, कस्बा देहात के कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति गड़बड़ा गई। वहीं दूसरी ओर ग्वालियर हाईवे के बाद फीडर से अंधाधुंध कटौती की जा रही है। सुबह पांच बजे से कटौती सुबह 10 से 11 बजे तक जारी रहती है। ऐसी भीषण गर्मी में इनवर्टर भी जबाव देने लग जाते हैं।

टीटीजेड में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के हैं निर्देश

टीटीजेड एरिया में सुप्रीम कोर्ट के नियमानुसार 24 घंटे आपूर्ति के निर्देश है, बावजूद इसके 24 घंटे में से मात्र 16 घंटे ही आपूर्ति प्राप्त हो पा रही है। यह स्थिति शहर से लेकर देहात तक है। डिमांड के अनुसार यूपी पॉवर कॉरपोरेशन बिजली उपलब्ध नहीं करा पा रहा है। इस बारे में ट्रांसमिशन के अधिकारियों का कहना है कि लोकलस्तर से कोई कटौती नहीं की जा रही है। लखनऊ कंट्रोल रूम के निर्देशों पर रोस्टिंग हो रही है। गौरतलब है कि आगरा में बिजली आपूर्ति को सुनिश्चित करने के लिए वर्ष 2015 में 400 केवी पीलीपोखर सब स्टेशन पर 315 एमवीए के ट्रांसफार्मर की जगह 500 एमवीए का ट्रांसफॉर्मर लगाया जा चुका है।

कंट्रोल रूम का नहीं मिल रहा फायदा

जिले में विद्युत आपूर्ति सुचारु करने के लिए डीवीवीएनएल ने अलग से कंट्रोल रुम बनाया था। इसमें एक व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया गया। इससे उपभोक्ताओं की कंप्लेन पर तुरन्त एक्शन लिया जा सके।

ये नबंर किए गए थे जारी

जिले का नाम कंट्रोल रुम का नबंर

आगरा 9568666682

इस नंबर पर कर सकते हैं फोटो शेयर

8859558888

आगरा को यहां से मिलती है बिजली

ललितपुर

औरेया

आगरा-उन्नाव लाइन

एनटीपीसी

शमसाबाद रोड स्थित पावर ग्रिड

फतेहाबाद स्थित 765 केवी पॉवर ग्रिड

इतनी होती है खपत

जिले का नाम बिजली आपूर्ति मेगावाट में

आगरा शहर और देहात 1000 मेगावाट सामान्य दिनों में, गर्मी में 1200 मेगावाट

भरतपुर 60 से 150 मेगावाट

मथुरा 350 मेगावाट

हाथरस 250 मेगावाट

मुरादनगर 125 मेगावाट

inextlive from Agra News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.