अफगानिस्‍तान में भारतीय वाणिज्‍य दूतावास पर आतंकी हमले का प्रयास

2016-01-04T10:01:00+05:30

उत्तरी अफगानिस्तान में मजारएशरीफ शहर में स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास के निकट आतंकवादियों ने रविवार को विस्फोट और फायरिंग की और परिसर में घुसने का प्रयास किया।

सफल नहीं हो सके आतंकी
अफगान शहर मजार-ए-शरीफ में भारतीय वाणिज्‍य दूतावास के निकट आतंकी हमला कर दूतावास में प्रवेश करने का प्रयास रविवार को विफल कर दिया गया। हमले के बाद तुरंत ही सुरक्षा में तैनात भारतीय कमांडो के मोर्चा थाम लेने से आतंकवादी घुसपैठ करने में सफल नहीं हो पाए हैं। बल्ख प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता मुनीर अमद फरहाद ने बताया कि अभी तक किसी के हताहत होने या किसी नुकसान की जानकारी नहीं मिली है। अब तक किसी भी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्‍मेदारी नहीं ली है। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों की संख्या का भी अनुमान अभी तक नहीं लगाया जा सका है।
सभी भारतीय अधिकारी और कर्मचारी सुरक्षित
भारतीय महावाणिज्यदूत बी सरकार ने कहा कि वाणिज्य दूतावास में सभी सुरक्षित हैं। उन्होंने बताया कि पास के मकान से 20 मिनट तक फायरिंग होती रही, लेकिन हमारे परिसर में कोई प्रवेश नहीं कर पाया है। वाणिज्य दूतावास के एक अन्य अधिकारी ने बताया, "हम लोगों पर हमला हुआ है। लड़ाई अभी जारी है।" गवर्नर के प्रवक्ता ने बताया कि अज्ञात संख्या में आतंकवादी वाणिज्य दूतावास के समीप के मकान में छिपे बैठे थे। अंधेरा घिरने के बाद उन लोगों ने हमले को अंजाम दिया है। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों ने वाणिज्य दूतावास में घुसपैठ करने का प्रयास तो किया लेकिन अभी तक सफल नहीं हो सके हैं। उन्होंने कहा, "सुरक्षा बल आतंकवादियों से लोहा ले रहे हैं।"
रणनीतिक विशेषज्ञों ने इसे खतरे का संकेत कहा
मजार-ए-शरीफ में वाणिज्य दूतावास पर हमले को रणनीतिक विशेषज्ञों ने भारत-पाकिस्तान के बीच प्रस्तावित द्विपक्षीय वार्ता को पटरी से उतारने का प्रयास मान रहे हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान यात्रा की और वहां से लौटने के क्रम में अपने पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ के गृह नगर लाहौर में कुछ घंटे बिताए थे। उनके लाहौर दौरे को अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने सकारात्मक माना था और इसे दोनों देशों के बीच रिश्ते में मील का पत्थर कहा था।

inextlive from World News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.