तीन हजार पोलिंग पार्टियां रवाना वोटिंग आज

2019-04-11T06:00:14+05:30

2740 पोलिंग बूथों पर पहुंची करीब 3015 पोलिंग पार्टियां जिले में

कचहरी से सूरजकुंड तक लगा लंबा जाम

ईवीएम के साथ कर्मचारियों के कंधे पर बढ़ा वीवीपैट का बोझ

MEERUT। लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान लिए बुधवार को जनपद की पोलिंग पार्टियों को ईवीएम और वीवीपैट के साथ मतदान केंद्रों पर रवाना कर दिया गया। जनपद के करीब 1198 मतदान केंद्रों पर स्थापित 2740 बूथों पर गुरुवार 11 अप्रैल को मतदान है। मतदान केंद्रों पर अपनी ड्यूटी के अपडेट के लिए बुधवार को सुबह से ही मतदान अधिकारियों और मतदान कर्मचारियों की भीड़ विक्टोरिया पार्क में उमड़नी शुरु हो गई थी। दोपहर बाद तक मतदान कर्मचारी अपनी डयूटी से लेकर वाहनों की तलाश में जूझते रहे। इस दौरान कमिश्नरी से लेकर विक्टोरिया पार्क तक दिनभर लंबा जाम लगा रहा।

शांति यज्ञ से शुभारंभ

सुबह छह बजे से ही पोलिंग कर्मचारियों का हुजूम विक्टोरिया पार्क समेत पुलिस लाइन और स्पो‌र्ट्स स्टेडियम में उमड़ना शुरु हो गया। शांति पूर्वक मतदान संपन्न कराने के लिए सुबह साढे़ सात बजे करीब विक्टोरिया पार्क में प्रशासन की ओर से यज्ञ कराया गया। इसके बाद विक्टोरिया पार्क में बने काउंटर से विधानसभा वार चुनाव सामग्री समेत ईवीएम, वीवीपेट और डयूटी चार्ट की जानकारी दी गई। इस दौरान सभी सरकारी विभागों के हजारों कर्मचारी अपनी डयूटी की जानकारी व ईवीएम के लिए काउंटर पर जूझते रहे।

दीवारों पर चस्पा ड्यूटी चार्ट

कर्मचारियों की सुविधा के लिए विधानसभा वार केंद्र का नाम और वाहन संख्या आदि की जानकारी के लिए कर्मचारियों का डयूटी चार्ट विक्टोरिया पार्क में भामाशाह मैदान की दीवार पर चस्पा कर दिया गया था। दीवार पर लगे नोटिस में अपने बूथ संख्या, पार्टी संख्या, बूथ का नाम और वाहन संख्या की जानकारी के लिए कर्मचारियों की भीड़ उमड़ी रही।

दिव्यांगों की भी ड्यूटी

मतदान ड्यूटी में सख्ती के चलते इस बार दिव्यांग और बुजुर्ग कर्मचारियों को भी चुनाव ड्यूटी से राहत नही दी गई। इसके चलते कई दिव्यांग और सैकडों बुजुर्ग महिला व पुरुष कर्मचारी विक्टोरिया पार्क में अपनी डयूटी के अपडेट के लिए इधर उधर भटकते दिखे।

दुधमुंहे बच्चे संग पहुंची महिलाएं

चुनाव डयूटी के लिए कई महिला कर्मचारी अपने दुधमुंहे बच्चे के साथ चुनाव ड्यूटी के लिए विक्टोरिया पार्क पहुंची थी। तेज धूप में महिलाएं अपने बच्चे को कंधे पर लेकर चुनाव डयूटी के लिए काउंटरों पर भटकती दिखी।

ईवीएम के साथ वीवीपैट का बोझ

हर साल केवल ईवीएम की जिम्मेदार को संभालने वाले कर्मचारियों पर इस बार वीवीपैट का बोझ और बढ़ गया। हालत यह थी कि बुजुर्ग कर्मचारी एक हाथ में ईवीएम और कंधे पर भारी वीवीपैट मशीन लाद कर डयूटी में जाते दिखे। वहीं कई दिव्यांगों के लिए भी वीवीपैट का बोझ परेशानी का सबब बना रहा। कई बुजुर्ग व दिव्यांग अपने साथ लाए परिजनों की मदद से वाहन तक मशीनें लेकर पहुंचे।

पार्किंग बनी समस्या

छोटे बडे़ वाहनों के लिए विक्टोरिया पार्क या आसपास कहीं भी पार्किंग की व्यवस्था नही की गई थी ऐसे में चुनाव ड्यूटी के लिए अपने वाहनों से पहुंचे कर्मचारियों के लिए पार्किंग बड़ी समस्या बनी रही। विक्टोरिया पार्क के अंदर बाहर चारों तरफ इधर उधर खडे़ वाहनों से जाम भी लगता रहा।

फैक्ट

मेरठ-हापुड़ सीट पर वोटर की संख्या 18.88 लाख

जिले की सातों विधानसभा में वोटर की संख्या 25.36 लाख

मेरठ-हापुड़ लोकसभा सीट पर महिलाओं मतदाताओं की संख्या 8.59 लाख

जनपद में कुल बूथों की संख्या 2740

जनपद में मतदान केंद्रों की संख्या 1198

मतदान केंद्रों के लिए पोलिंग पार्टियां की संख्या 3015

डयूटी पर लगाए गए मतदान अधिकारियों की संख्या 10940

मतदान डयूटी के लिए लगे कुल वाहनों की संख्या 2500 करीब

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.