राज्यसभा में भी पास होगा तीन तलाक बिल स्वामी ने बताई ट्रिक

2018-12-28T10:17:40+05:30

कांग्रेस और विपक्ष के विरोध के बावजूद लोकसभा में तीन तलाक बिल पास हो गया। बीजेपी से राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी को उम्मीद है कि अल्पमत के बावजूद एनडीए सरकार उच्च सदन में भी यह बिल पास कराने में कामयाब होगी।

मुंबई (पीटीआई)। उच्च सदन राज्यसभा में एनडीए को बहुमत न होने के बावजूद तीन तलाक बिल पास हो जाएगा। वरीष्ठ बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने ऐसी उम्मीद जताई है। उनका यह बयान लोकसभा में यह बिल पास होने के बाद आया है। ध्यान रहे कि तीन तलाक में सजा को लेकर गरमागरम बहस के बाद बृहस्पतिवार को लोकसभा में यह बिल पास हो गया। सरकार ने इस बिल को मुसलिम महिलाओं के लिए 'इनसानियत और इंसाफ' के तौर पर पेश किया। साथ ही सरकार ने इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया कि वह यह बिल किसी खास समुदाय को टारगेट करने के लिए पेश किया है। स्वामी हिंदू नव वर्ष स्वागत समिति के एक कार्यक्रम 'मंथन - द आईडिया ऑफ न्यू इंडिया' में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।

निकाह हलाला भी करना चाहते हैं खत्म

स्वामी ने कहा कि हमने लोकसभा में यह बिल पास करा लिया है और राज्यसभा में भी पास करा लेंगे। हम उन्हें देख लेंगे जो उच्च सदन में इस बिल का विरोध करेंगे। हालांकि एनडीए के पास राज्यसभा में बहुमत नहीं है लेकिन हमारे पास एक ट्रिक है जिससे यह बिल यहां भी पास हो जाएगा। बीजेपी नेता ने कहा कि तीन तलाक की तरह निकाह हलाला भी हम खत्म करना चाहते हैं। यह प्रथा भी महिलाओं को अपमानित करने के लिए चली आ रही है जिसे अब नहीं होना चाहिए। ध्यान रहे कि निकाह हलाला के तहत एक व्यक्ति तलाक देने के बाद अपनी ही पत्नी से दोबारा शादी नहीं कर सकता जब तक कि वह किसी और से विवाह करके तलाकशुदा न हो जाए।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.