UP Election Results 2017 पीएम मोदी के वाराणसी में महामुकाबला किसको मिलेगा बाबा विश्वनाथ का आर्शीवाद

2017-03-11T08:44:09+05:30

जीत के बाद प्रत्याशी सबसे पहले करेंगे उसे प्रणाम जिसके आशीर्वाद से मिली जीत कुछ पहले भगवान के दरबार में टेकेंगे मत्था फिर वोटर को करेंगे प्रणाम

Varanasi

जब तक ये खबर लोगों के घर तक पहुंचेगी तब तक विधानसभा चुनाव के मैदान में ताल ठोंकने वालों की किस्मत का पिटारा खुल चुका होगा. वोट की गिनती शुरू हो चुकी होगी और कुछ ही घंटों में तय हो जाएगा कि जीत का सेहरा किसके सिर बंधेगा. चुनाव में जीत के लिए हर प्रत्याशी ने उस दर पर मत्था टेका है जहां से उसे उम्मीद है कि जीत का आशीर्वाद उसे मिल सकता है. जीत की घोषणा के बाद विजेता सबसे पहले उसी दर पर जाएंगे. डीजे आई नेक्स्ट ने इस बाबत प्रत्याशियों से बात की तो सबने अपने दिल की बात बतायी. किसी ने बताया कि वो सबसे पहले उस जनता जर्नादन के पास जाएगा जिसने जीत का सेहरा बांधा. कोई भगवान के दरबार में मत्था टेकेगा जिसके आर्शीवाद से विजय हासिल हुई. आप भी जानिए जीत के बाद कौन सबसे पहले क्या करेगा?

 

जाएंगे जनता के बीच

कैंट विधानसभा के बीजेपी के प्रत्याशी सौरभ श्रीवास्तव बताते हैं कि जीत के बाद वो सबसे पहले अपने संघर्ष के साथियों के साथ जनता के बीच जाएंगे. उनका आशीर्वाद प्राप्त करेंगे. क्योंकि ये जीत उनकी वजह से ही मिलेगी. मतदान के बाद भी मैंने आराम नहीं किया. कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की.

 

कैंट विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस-सपा गठबंधन के प्रत्याशी अनिल श्रीवास्तव जीते तो सबसे पहले भारत रत्न पं. मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करेंगे. छात्र राजनीति के दौरान जब भी उन्हें विजय हासिल हुई उन्होंने पं. मदन मोहन मालवीय को प्रणाम किया.

 

शहर दक्षिणी के बीजेपी के प्रत्याशी नीलकंठ तिवारी जीत के बाद सबसे पहले बाबा विश्वनाथ का दर्शन करेंगे. उनका मानना है कि बाबा विश्वनाथ ने उन्हें ताकत दी है. उसके बाद जनता के बीच जाकर उन्हें प्रणाम करूंगा. क्योंकि इस जनता ने ही उन्हें सेवा का मौका दिया है.

 

शहर दक्षिणी से बसपा के प्रत्याशी जीत के बाद अपने माता-पिता का आशीर्वाद सबसे पहले लेंगे. उनका कहना है कि आज जो भी उन्हें हासिल है वो माता-पिता की देन है. इसके बाद बाबा विश्वनाथ, कालभैरव समेत अन्य मंदिरों में दर्शन करके जनता की सेवा में लग जाएंगे.

 

पिण्डरा विधानसभा से पांच बार विधायक रह चुके अजय राय छठवीं बार कांग्रेस-सपा गठबंधन के प्रत्याशी हैं. उनका कहना है कि उन पर मां नकटेश्वरी की बहुत कृपा है. उनका मंदिर पिण्डरा विधानसभा क्षेत्र में है. जीत के बाद सबसे पहले उनके दर्शन के लिए जाएंगे.

 

शहर दक्षिणी विधानसभा से कांग्रेस-सपा के प्रत्याशी डॉ. राजेश मिश्रा जीत के तुरंत बाद बाबा विश्वनाथ का दर्शन करेंगे. इसके बाद अपने कार्यकर्ताओं के साथ जनता के बीच जाएंगे. हर उस शख्स को प्रणाम करेंगे जो संघर्ष में हर कदम पर उनके साथ रहा.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.