खनन घोटाला सीबीआई ने दिल्ली व यूपी में खंगाले 21 ठिकाने इन पूर्व मंत्री के घर पर पड़ा छापा

2019-06-13T10:42:52+05:30

खनन घोटाले में सीबीआई ने पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के आवास समेत दिल्ली व यूपी के 21 ठिकानों पर छापा मारा है।

कहां-कहां छापे
लखनऊ : 4 जगह

गाजियाबाद : 2
हमीरपुर-जालौन : 11
अमेठी : 3
दिल्ली : 1
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : रेप के मामले में जेल में बंद चल रहे सपा सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के अमेठी में आवास विकास कॉलोनी स्थित आवास और सपा एमएलसी रमेश मिश्रा के हमीरपुर स्थित आवास समेत यूपी और दिल्ली की कुल 21 जगहोंं पर बुधवार को सीबीआई टीम ने छापेमारी की। सीबीआई के मुताबिक बुधवार को दिल्ली में एक, गाजियाबाद में दो, हमीरपुर व जालौन में 11, अमेठी में तीन और लखनऊ में चार जगहों पर छापेमारी की गई है। हालांकि, इस छापेमारी में क्या मिला, इस बारे में कोई भी सीबीआई की ओर से कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है।
पुलिस-प्रशासन को भी नहीं लगी भनक
अमेठी में आवास विकास कॉलोनी में गायत्री प्रसाद प्रजापति के आवास पर पूर्वान्ह 11 बजे के करीब सीबीआई टीम पहुंची। सीबीआई की 14 सदस्यों सदस्यीय टीम ने गायत्री के दफ्तर का कंप्यूटर भी सील कर दिया। इस कार्रवाई की स्थानीय पुलिस व प्रशासन को भी भनक नहीं लग सकी। सीबीआई टीम ने अपने संग गायत्री के भतीजे सुरेंद्र प्रजापति को ले रखा था। बताया जा रहा है कि सुरेंद्र ने ही मकान के सभी कमरों और अलमारियों की चाभी सीबीआई को मुहैया कराई। जिसके बाद टीम ने सभी कमरों में पड़ताल की और अलमारियों में रखे कागजात को जब्त कर लिया। इसके अलावा उनके दो अन्य मकानों पर भी सीबीआई टीम ने छापा मारकर दस्तावेज कब्जे में लिये हैं।

एमएलसी व पूर्व सांसद के घर भी छापा

अमेठी के अलावा सीबीआई टीम ने हमीरपुर व जालौन में कुल 11 ठिकानों पर छापेमारी की है। हमीरपुर में सपा एमएलसी रमेश मिश्र के आवास समेत चार घरों में छापेमारी की। एमएलसी मिश्र के पैतृक गांव इमिलिया में सुबह 7 बजे सीबीआई टीम पहुंची। करीब डेढ़ घंटे तक घर की तलाशी लेने के साथ वहां मौजूद परिजनों से पूछताछ भी की। इस दौरान टीम ने सोफे व बेड को हटाकर तलाशी ली। साथ ही अलमारी को खोलकर खंगाला। इसके बाद राठ पहुंचकर सीबीआई टीम ने कस्बे के जुगयाना मोहल्ले के निवासी जगदीश राजपूत, चरखारी रोड के मदन राजपूत, ददरी व सिकंदरपुर मोहल्ला स्थित राकेश दीक्षित के मकान में भी छापा मारकर जांच-पड़ताल की। इसके अलावा जालौन के सांसद घनश्याम अनुरागी के घर पर भी सीबीआई टीम ने छापा मारा। उन्हें कई बार सीबीआई टीम ने पूछताछ के लिये बुलाया लेकिन, वे नहीं पहुंचे। जिसके बाद बुधवार को उनके घर पर छापा मारा गया है। इसके अलावा छह पट्टाधारकों के यहां भी सीबीआई टीम ने छापेमारी कर कई दस्तावेज कब्जे में लिये हैं।

हाईकोर्ट ने दिया था सीबीआई जांच का आदेश

समाजवादी पार्टी की सरकार में अवैध खनन को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने वर्ष 2016 में अवैध खनन की सीबीआई जांच का आदेश दिया था। यूपी के सात जिलों में अवैध खनन की शिकायत हाईकोर्ट को मिली थी। उस दौरान फतेहपुर, देवरिया, शामली, कौशांबी, सहारनपुर, सिद्धार्थनगर, हमीरपुर में अवैध खनन का मामला सामने आया था। हमीरपुर मामले में बीती दो जनवरी को सीबीआई के डिप्टी एसपी केके शर्मा ने आईपीसी की धारा 120बी, 379, 384, 420 व 511 और एंटी करप्शन एक्ट की धारा 13 (1) व 13 (2)के तहत केस दर्ज कराया था। जिसके बाद 5 जनवरी को सीबीआई की टीम ने आईएएस बी चंद्रकला के हजरतगंज स्थित फ्लैट समेत लखनऊ, हमीरपुर, नोएडा और जालौन के कुल 14 ठिकानों पर छापेमारी की थी। सीबीआई की एफआईआर में गायत्री प्रसाद प्रजापति का नाम तो स्पष्ट रूप से नहीं था लेकिन, उसमें तत्कालीन खनन मंत्री की भूमिका पर सवाल खड़े किये गए थे।
खनन घोटाला : चंद्रकला तो बहाना-कहीं और है निशाना, बड़े अफसरों व नेताओं की ओर घूम रही शक की सुई
खनन घोटाला : IAS चंद्रकला की तरह सपा एमएलसी रमेश मिश्र भी नहीं पहुंचे ईडी दफ्तर
ईडी ने भी दर्ज किया है मुकदमा

सपा सरकार के दौरान हुए खनन घोटाले में सीबीआई के अलावा इंफोर्समेंट डायरेक्टरेट भी जांच कर रहा है। ईडी ने तत्कालीन डीएम हमीरपुर चंद्रकला, एमएलसी रमेश मिश्र समेत 11 लोगों के खिलाफ मनी लाॅन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था और फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.