यूपी में कॉन्सटेबल भर्ती का रिजल्ट तैयार 41520 लाेगों का सपना होगा साकार

2019-02-17T09:16:02+05:30

कॉन्सटेबल्स की कमी से जूझ रही यूपी पुलिस को जल्द 41520 कॉन्सटेबल्स मिलेंगे।

41,520  कुल पद
22.67 लाख कुल अभ्यर्थी
18,816 पुरुष कॉन्सटेबल सिविल पुलिस
4704   महिला कॉन्सटेबल सिविल पुलिस
18000  पीएसी कॉन्सटेबल
गलत पर्चा बंटने की वजह अक्टूबर में 16 जिलों में दोबारा कराई गई थी परीक्षा
दो चरणों में होगी ट्रेनिंग, पहले सिविल पुलिस कॉन्सटेबल्स को किया जाएगा प्रशिक्षित

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड ने कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा-2018 का अंतिम रिजल्ट तैयार कर लिया है, जिसे जल्द जारी कर दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि ट्रेनिंग क्षमता सीमित होने की वजह से पहले सिविल पुलिस के कॉन्सटेबल्स पद के लिये सफल हुए अभ्यर्थियों को ट्रेनिंग दी जाएगी, जिसके बाद पीएसी कॉन्सटेबल्स को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

22.67 लाख ने किया था आवेदन

यूपी पुलिस में स्टाफ की कमी को देखते हुए पुलिस कॉन्सटेबल के 41 हजार 520 पदों के लिये भर्ती की घोषणा की गई थी। इसके लिये प्रदेश भर से 22.67 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। वर्ष 2017 में आयोजित की गई दारोगा भर्ती ऑनलाइन परीक्षा का पेपर लीक होने की वजह से पुलिस भर्ती बोर्ड ने कॉन्सटेबल परीक्षा ऑफलाइन रखी। इतना ही नहीं, परीक्षा आयोजित करने वाली कंपनी को भी बदल दिया गया था।
 
9.76 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए
जून माह में आयोजित की गई परीक्षा में धांधली रोकने के तमाम उपाय किये गए, लेकिन प्रयागराज व एटा में दूसरी पाली का पर्चा पहली पाली में व पहली पाली का पर्चा दूसरी पाली में बांटे जाने की वजह से परीक्षा को निरस्त कर दिया गया था। लिहाजा 26 व 27 अक्टूबर को दोबारा यह परीक्षा आयोजित की गई। जिसके लिये 16 जिलों के 482 सेंटर्स बनाए गए थे। इस परीक्षा में 9.76 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए थे।  

दो चरणों में होगी ट्रेनिंग

पुलिस भर्ती बोर्ड सूत्रों ने बताया कि भर्ती परीक्षा व उसके बाद शारीरिक दक्षता परीक्षण का रिजल्ट सम्मिलित कर अंतिम रिजल्ट तैयार कर लिया गया है। जिसे अगले दो दिनों के भीतर जारी कर दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि रिजल्ट जारी होने के बाद इतनी भारी संख्या में सफल अभ्यर्थियों को ट्रेनिंग देना भी यूपी पुलिस के लिये चुनौती है। इसी को देखते हुए पहले 23,520 सिविल पुलिस कॉन्सटेबल पद पर सफल हुए अभ्यर्थियों को ट्रेनिंग दी जाएगी। उनकी ट्रेनिंग पूरी होने के बाद पीएसी कॉन्सटेबल पद के लिये सफल हुए 18000 अभ्यर्थियों को ट्रेनिंग दी जाएगी।

डिजिटलाइजेशन में शहर की पुलिस फिसड्डी, मुरादाबाद से सीखे स्मार्ट वर्किंग

मुल्जिम को पीडि़त समझ थाने से किया रवाना


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.