UTU Celebrates Third Convocation Ceremony

2011-12-12T19:39:16+05:30

उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी ने मंडे को अपनी थर्ड कोनवोकेशन सेरेमनी सेलिब्रेट की इस मौके पर 6660 अवॉर्डीस को उनकी डिग्री देकर सम्मानित किया गया कोनेवोकेशन में चीफ गेस्ट उत्तराखंड की गवर्नर माग्रेट आल्वा ने शिरकत की

तीन मानद उपाधियां
कोनवोकेशन का इनॉगरेशन यूटीयू की चांसलर और स्टेट की गवर्नर मार्गेट आल्वा, वाइस चांसलसर प्रो। दुर्ग सिंह चौहान व अन्य गेस्ट्स ने दीप प्रज्जवलित कर किया। स्टूडेंट्स के ग्रुप ने नेशनल एंथम के बाद यूनिवर्सिटी सांग प्रेजंट किया। कोनवोकेशन के मौके पर डिग्री रिसीव करने आए स्टूडेंट्स को मानवता की सेवा करने की शपथ दिलाई गई। गवर्नर द्वारा साइंटिफिक सेक्रेट्री टू द प्रिंसिपल साइंटिफिक एडवाइजर, गवर्नमेंट ऑफ इंडिया प्रो। एसवी राघवन व डायरेक्टर आईआईटी कानपुर प्रो। संजय गोविंद ढांडे को डाक्टरेट ऑफ साइंस की मानद उपाधि देकर सम्मानित किया गया। पद्मा सेठ को डीलिट की उपाधि से सम्मानित किया गया।

Report present की
यूटीयू के रजिस्ट्रार प्रमोद जोशी ने बताया कि यूनिवर्सिटी द्वारा नौ पीएचडी डिग्री, 41 स्टूडेंट्स ऑफ एमटेक, चार स्टूडेंट्स ऑफ एमटेक बाई रिसर्च, 613 स्टूडेंट्स ऑफ एमसीए, 1705 स्टूडेंट्स ऑफ एमबीए, 3419 स्टूडेंट्स ऑफ बीटेक, 43 स्टूडेंट्स ऑफ बी.आर्क, 307 स्टूडेंट्स ऑफ बी.फार्मा, 188 स्टूडेंट्स ऑफ बीएचएमसीटी, 49 स्टूडेंट्स ऑफ बीपी.एड्, 282 स्टूडेंट्स ऑफ बीएड् को डिग्री प्रदान की गई। उन्होंने बताया कि जिन स्टूडेंट्स को डिग्रीज दी गई हैं उन्होंने फाइनल प्रोफेशनल एग्जामिनेशन ऑफ वेरियस कोर्सेज को सक्सेसफुली कंपलीट किया है।
बधाई दी
इस मौके पर गवर्नर माग्र्रेट आल्वा ने स्टूडेंट्स को डिग्री मिलने पर बधाई दी। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि यहां पर केवल उत्तराखंड से ही नहीं बल्कि देश के दूसरे हिस्सों से भी स्टूडेंट्स हिस्सा लेने पहुंचे हैं। पीएचडी, एमटेक, एमसीए, एमबीए, बीटेक, बीआर्क, बीफार्मा जैसे सब्जेक्ट्स में स्पेशियलिटी हासिल करने वाले स्टूडेंट्स अपने परिवार के साथ ही अपने टीचर्स को भी खुद पर गर्व करने का अवसर देंगे। उन्होंने स्टूडेंट्स से कहा कि अगर वह खुद पर भरोसा रखेंगे तभी वह  री दुनिया में सफल हो पाएंगे। एजूकेशन का मकसद केवल प्रोफेशनल एक्सिलेंसी नहीं है, बल्कि यह ह्यूमन पर्सनैलिटी को डेवलप करती है।
बेहतर प्रयास की और अग्रसर
अपनी स्पीच में यूटीयू के वीसी प्रो। दुर्ग सिंह चौहान ने कहा कि यूटीयू अस्तित्व में आने के बाद से ही एकेडमिक एक्सिलेंस विजन को ध्यान में रखकर बेहतर प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि उन सभी ग्रेजुएट्स और पोस्ट ग्रेजुएट्स को बधाई देना चाहूंगा, जिन्होंने डिग्री के साथ ही सम्मान अर्जित किया है। उनसे उम्मीद है कि वह हमेशा बेहतरी का प्रयास करेंगे।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.