रिकॉर्ड में बंट गई वोटर आईडी पब्लिक भटक रही

2019-04-04T08:40:24+05:30

सदर तहसील में रियलिटी के दौरान वोटर आई कार्ड मांगने पर बीएलओ ने दिया जवाब मतदान आज ही है क्या

- तहसीलों में 92835 भेजी गई वोटर आईडी, रोज के वितरण की हो रही मॉनिटरिंग, भेजा जा रहा मनमाना डाटा

mukesh.chaturvedi@inext.co.in
PRAYAGRAJ: निर्वाचन आयोग सख्त है तो कमिश्नर भी टाइट हो गये हैं। मतदाता पहचान पत्र वितरण की एक्युअल स्टेटस क्या है? मॉनीटर किया जाने लगा है। मंगलवार को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने निर्वाचन कार्यालय में फोन पर हो रही बात सुनी और डाटा फिल करने का तरीका सुना तो दंग रह गया। वोटर आईडी के लिए तमाम लोग भटक रहे हैं और विभाग डाटा के साथ खेल रहा है। बुधवार को रिपोर्टर ने स्टिंग करके वोटर आईडी कार्ड वितरण की हकीकत जानी। एक युवक को तलाशा जो वोटर आईडी कार्ड के लिए भटक रहा था। अफसरों से लेकर बीएलओ से बात की तो खुलकर सामने आया कि असल में क्या हो रहा है।

सिर्फ बीएलओ ही देगा कार्ड
दोपहर एक बजे इसकी शुरुआत सदर तहसील के ऊपरी तल से हुई। रिपोर्टर ने बिना पहचान जाहिर किए एक कर्मचारी से पूछा, सर वोटर आईडी का पता लगाना था। जवाब मिला सीढ़ी से ऊपर 18 नंबर कमरे में चले जाओ। वहीं से पता चलेगा। रिपोर्टर सीधे 18 नंबर कमरे में पहुंचा। दरवाजे के ठीक सामने कुर्सी-मेज लगी थी। कई लोग बठे थे।

(दीवार की तरफ बैठे कर्मचारी से मुखातिब होते हुए)

रिपोर्टर: सर मैं श्याम, मेंहदौरी कालोनी से आया हूं।

कर्मचारी: हां, समस्या क्या है?

रिपोर्टर: सर हमें अपना वोटर कार्ड लेना था।

कर्मचारी: यार परेशान मत करो। तुम्हारा बीएलओ तुम्हारे घर कार्ड लेकर जाएगा।

रिपोर्टर: अरे सर अब तक तो वे नहीं आए। विधानसभा चुनाव के समय ही पता चेंज हो गया। पर्ची भी आनलाइन दिख रही है लेकिन कार्ड नहीं मिला।

कर्मचारी: अपना मतदान केंद्र बताओ।

रिपोर्टर: राजकीय महिला पॉलीटेक्निक

कर्मचारी: ये लो फाइल। अपने बीएलओ का नाम व नंबर खोजकर बात कर लो।

(लिस्ट में बीएलओ कॉलम में श्वेता मिश्रा का नाम और मोबाइल नंबर दर्ज था। रिपोर्टर ने फोन लगाया.)

बीएलओ: कौन बोल रहा है?

रिपोर्टर: मैडम, मैं श्याम बोल रहा हूं, हमारा वोटर कार्ड अभी तक नहीं पहुंचा?

बीएलओ: तो पहुंच जाएगा। काहे परेशान हैं, मतदान अभी होने जा रहा है क्या?

रिपोर्टर: नाराज न हों मैडम जी, दो साल हो गया नाम जुड़े कार्ड नहीं बना इसलिए पूछ रहा था?

बीएलओ: इंतजार करो, कार्ड आया होगा तो नंबर आने पर पहुंचा देंगे।

सीन-2

इसके बाद रिपोर्टर ने कर्मचारी से फिर अपनी बात कहनी चाही।

रिपोर्टर: सर, मैडम तो ऐसे कह रही हैं।

कर्मचारी (झल्लाते हुए) यार, यहां हम तुम्हें कुछ नहीं दे सकते। अपने बीएलओ से ही तुम मिलो, तभी तुम्हारी समस्या का हल होगा।

रिपोर्टर: सर उनकी कोई ऑफिस तो है नहीं वहां, कैसे और कहां मिलें?

कर्मचारी: उनका नंबर ले लिए न, कॉल करके मिल लो। फॉर्म अभी फीड किए जा रहे हैं। साइट लो और खुद चेक करोमुझे पकाओ मत।

अजीब आदमी हो यार

दिन में डेढ़ बजे के करीब रिपोर्टर इसी कमरे में दूसरी तरफ लगे काउंटर पर पहुंचा। पूछने पर पता चला, यहां शहर पश्चिमी का का काम हो रहा था।

रिपोर्टर: सर, मेरे दादा का वोटर कार्ड दे दीजिए, नाम-पता जो कहें बता दूं।

कर्मचारी: भाई इस विधानसभा का एक भी वोटर कार्ड तहसील में नहीं आया है। हम केवल फॉर्म लेकर मतदाता सूची में नाम बढ़वाने व संशोधन के लिए फीडिंग काउंटर पर भेज रहे हैं।

रिपोर्टर: शहर दक्षिणी का काउंटर कहां है सर?

कर्मचारी: अजीब आदमी हो यार, अभी तक उत्तरी काउंटर पर थे फिर यहां आए अब दक्षिणी काउंटर चाहिए। ऊपर 28 नंबर कमरे में चले जाओ।

यहां इतनी फुर्सत नहीं है

दोपहर पौने दो बजे रिपोर्टर कमरा नंबर 28 में पहुंचा। यहां कई कर्मचारी फाइलों व मतदाता सूची में नजर गड़ाए हुए थे।

रिपोर्टर: सर नमस्ते

कर्मचारी: हां, काम बताओ।

रिपोर्टर: सर, हमारे परिवार के कई लोगों का नाम वोटर लिस्ट में नहीं है। फॉर्म भरा था, देख लेंगे क्या? जवाब मिला यहां इतनी फुर्सत नहीं। nvsp service portal पर जाकर खुद ही चेक कर लो।

विधानसभावार तहसीलों में भेजी गई वोटर आईडी

विधान सभा वोटर आईडी

फाफामऊ 5775

सोरांव 8512

फूलपुर 9762

प्रतापपुर 11508

हंडिया 9226

मेजा 7754

करछना 9727

इलाहाबाद पश्चिमी ---

इलाहाबाद उत्तरी 5963

इलाहाबाद दक्षिणी 7302

बारा 8593

कोरांव 8713

कुल 92835

(नोट कुल 25हजार वोटर आईडी कार्ड मंगलवार तक बांट दिये जाने का डाटा तैयार किया गया था.)


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.