जिद पर भारी प्रशासन की तैयारी

2019-05-27T06:00:52+05:30

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के हास्टलों में चलाया गया वाश आउट अभियान

एक-एक कर खाली कराए गए सभी हास्टल के कमरे, मचा रहा हड़कंप

PRAYAGRAJ: तमाम छात्र कमरे में ताला बंद कर गायब थे। कुछ कमरे में मौजूद थे। कोई नहा रहा था तो कोई खाना बनाने की तैयारी में थे। दर्जनों छात्र ऐसे भी रहे जो अपना बोरिया-बिस्तर समेटने में लगे हुए थे। इस बीच अचानक भारी संख्या में फोर्स के साथ अफसर जा पहुंचे। पुलिस के जवानों ने सभी को कमरे खाली करने के निर्देश दिए। एक-एक कमरे खाली कराए गए। कुछ जगह पुलिस को हल्का बल का भी प्रयोग करना पड़ा। इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के हॉस्टल्स में रविवार को चलाए गए वॉशआउट अभियान की स्थिति कुछ ऐसी ही रही।

बंद कमरों का तोड़ा गया ताला

वॉशआउट का अभियान ताराचंद हॉस्टल से शुरू हुआ। यहां पुलिस पहुंची तो कुछ छात्र खुद को लीगल बताते हुए कमरा न खाली करने की जिद पर अड़ गए। इस पर यूनिवर्सिटी के चीफ प्रॉक्टर व अधीक्षक ने उसके लीगल न होने की वजह बताते हुए कमरों को खाली करने के लिए कहा। यहां कुछ छात्र कमरों को खाली करने के मूड में नहीं दिखे। यह देख पुलिस अपने पर आई तो वे कमरों से सारा समान बाहर निकालकर चलते बने। कई दरवाजों में लटक रहे तालों को तोड़कर पुलिस ने कमरों को खाली कराया। इसी तरह मुस्लिम बोर्डिग, केपीयू व सर सुंदर लाल हॉस्टल को भी खाली कराया गया।

अपने पर आई पुलिस तो हो गए बैक

इसके बाद फोर्स हॉलैंड हॉल पहुंची। यहां भी कई ऐसे छात्र मिले जिनका कब्जा कमरों में कई वर्षो से था। जबकि उनकी पढ़ाई का कोर्स पूरा हो चुका है। पुलिस कमरों को खाली कराने लगी तो कुछ छात्र विरोध करते हुए कमरा न खाली करने की जिद पर अड़ गए। यह देख पुलिस अपने अपर आई तो उन्होंने घुटने टेक दिए। बहरहाल हॉस्टल के सभी कमरों को पुलिस ने खाली करा दिया। खाली कराए गए हॉस्टलों के कमरों में अधीक्षकों ने ताला लगवा दिया है।

यह लोग रहे मौजूद

इस वॉशआउट अभियान में एसपी सिटी बृजेश कुमार श्रीवास्तव, एसओ कर्नलगंज अनूप सिंह, एसओ शिवकुटी ऋषिपाल, चौकी इंचार्ज यूनिवर्सिटी सहित, यूनिवर्सिटी के प्रॉक्टर डॉ। राम सेवक दुबे, डॉ। हर्ष कुमार, डॉ। संतोष कुमार सिंह आदि रहे।

बाक्स

भोर में पड़ सकता है छापा

चीफ प्रॉक्टर व अधीक्षकों ने बताया कि कुछ छात्रों के लौटने का अंदेशा बना हुआ है। वह लौट कर फिर कब्जा कर सकते हैं। इस एसपी सिटी ने कहा कि ऐसी स्थिति में वे तत्काल पुलिस को खबर दें। इस तरह के छात्रों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। ऐसे लोगों की गिरफ्तारी के लिए भोर में भी छापे मारे जाएंगे।

वर्जन

सभी हास्टलों के कमरों को खाली करवा कर प्रॉक्टर व अधीक्षक को हैंडओवर कर दिया गया है। अब कब्जा न हो यह जिम्मेदारी उन्हीं की है।

-बृजेश कुमार श्रीवास्तव, एसपी सिटी

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.