कंटेनर लेकर कोलकाता रवाना हुआ टैगोर

2018-11-18T06:01:10+05:30

- मल्टीमॉडल टर्मिनल रामनगर से जलपोत पर लोड किया कंटेनर

रामनगर में बने मल्टीमॉडल टर्मिनल से रवींद्र नाथ टैगोर जलपोत, कंटेनर में कार्गो की पहली खेप लेकर शनिवार को कोलकाता के लिए रवाना हो गया। कुछ कंटेनर तो शुक्रवार की शाम को ही पहुंच गए थे लेकिन इफको का माल फूलपुर से कंटेनर में लोड होकर आते समय गोपीगंज जाम में फंस जाने के कारण देर रात बंदरगाह पहुंचा। इसके बाद जापानी क्रेन से कंटेनर को जहाज में लोड किया गया। इफको के आठ कंटेनर में उर्वरक, पेप्सिको के छह कंटेनर में खाद्य पदार्थ व बेवरेज तथा डाबर कम्पनी का दो कंटेनर में माल जा रहा है। 12 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी ने बंदरगाह का लोकार्पण किया था। हल्दिया से वाराणसी के बीच बना 1328 किमी जलमार्ग राष्ट्रीय जलमार्ग- 1 है। भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण का किसी नदी पर बना यह पहला जलमार्ग है.

यह है जलपोत की खासियत

बंदरगाह से माल लेकर कोलकाता जा रहे टैगोर की लम्बाई 54.6मीटर और चौडाई 9.6 मीटर है। यह रडार के माध्यम से चलता है, साथ ही आरआइएस सिस्टम भी लगा हुआ है। जो दिशा व मार्ग को इंडीकेट करता है। इसके अलावा जहाज पर लगे लाइट की रेंज 12 किलोमीटर दूर तक है। जिससे रात में भी आसानी से देख जा सके। जहाज को चलाने के लिए 470 हार्सपावर का भारीभरकम इंजन लगा हुआ। प्रतिघंटे की रफ्तार 7- 8 किलोमीटर है। इसकी साढ़े तीन सौ टन माल को ले जाने की क्षमता है। चलने के लिए यह केवल 2.5 मीटर डीप में भी आसानी से परिवहन कर सकता है.

inextlive from Varanasi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.