10 साल में शादी 14 साल में बनी मां! नौकरी के लिए उम्र घटा फंसी

2019-06-04T11:11:24+05:30

नौकरी हासिल करने के लिए कागजों की हेराफेरी सामने आई। जांच अधिकारी ने बीएसए ने अंक तालिका पर मांगी रिपोर्ट

bareilly@inext.co.in
BAREILLY: नौकरी हासिल करने के लिए महिला सफाईकर्मी ने कागजों में हेराफेरी कर डाली। कई साल तक पद पर काबिज होकर भुगतान तक उठाया। शिकायत पर अफसरों ने जांच की तो दस साल की करीब उम्र में शादी व 14 साल में मां बनने की हकीकत सामने आई। जिस पर जांच अधिकारी ने अंक तालिका व उम्र संबंधित तथ्यों की पड़ताल के लिए बीएसए को पत्र भेजकर रिपोर्ट मांगी है।

जांच में उम्र संबंधी प्रमाण मिले विरोधाभासी
पंचायती राज विभाग की महिला सफाईकर्मी संतोषी देवी पर फर्जी कागजों के आधार पर नौकरी हासिल करने के आरोप किशोर बाजार निवासी ओमवती ने लगाए। जिस पर सीडीओ ने मामले की जांच विकास विभाग के सहायक लेखाधिकारी को सौंपी। जांच के दौरान नौकरी के लिए आवेदन संबंधी दस्तावेजों खंगाले तो उम्र संबंधी प्रमाण विरोधाभासी मिले।

1981 में पैदा, 1991 में शादी का मिला प्रमाण

वर्ष 2005 में किशोर बाजार के मॉडल जूनियर हाईस्कूल से व्यक्तिगत परीक्षार्थी के रूप में परीक्षा उत्तीर्ण करने की अंक तालिका में आयु 15.07.1981 दर्ज मिली। जबकि 23.06.1991 को शादी होने का प्रमाण मिला। बेटी की जन्म तिथि 15.07.1995 होने का प्रमाण मिला। वहीं, शिकायतकर्ता की ओर से उपलब्ध कराई निवार्चन सूची में संतोषी देवी की आयु 48 वर्ष दर्ज मिली।

जन्म तिथि पर मांगा जवाब

जांच अधिकारी ने बीएसए को भेजे पत्र में आठवीं की परीक्षा वर्ष 2005 में व्यक्तिगत होने, अंक तालिका में जन्म तिथि का निर्धारण किस साक्ष्य के आधार पर करने, इस संबंध में जारी शासनादेश की प्रति मांगी है।
वर्जन-
नौकरी हासिल करने के लिए फर्जीवाड़ा करने की पुष्टि हुई है। अंक तालिका की वैधता जानने के लिए बीएसए को पत्र लिखा है। बीएसए से मांगी जानकारी मिलने पर रिपोर्ट कार्रवाई के लिए सीडीओ को सौंपी जाएगी।
राम आसरे गंगवार, जांच अधिकारी व सहायक लेखाधिकारी।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.