जमशेदपुर नहीं मिली एंबुलेंस महिला ने तड़पतड़पकर दी जान

2019-05-08T09:39:27+05:30

जमशेदपुर के पश्चिमी सिंहभूम में एंबुलेंस की व्यवस्था नहीं होने की वजह से एक महिला की जान चली गई

JAMSHEDPUR@inext.co.in
CHAIBASA: पश्चिमी सिंहभूम जिला स्थित सदर अस्पताल में एंबुलेंस की व्यवस्था नहीं होने की वजह से एक महिला ने तड़प-तड़प कर जान दे दी। घटना सोमवार रात की है। चक्रधरपूर क्षेत्र के दाडकीडीह गांव निवासी सरस्वती हेम्ब्रम शाम 7 बजे घर में माड़ पसार रही थी। उसी दौरान बाहर में खेल रहे छोटा बच्चा अचानक सरस्वती के पास दौड़कर आया और लिपट गया। संतुलन खोने से खाना पक रहा गरम पानी को अपने शरीर में डला गई। गंभीर हालत में सरस्वती हेम्ब्रम को चक्रधरपुर अस्पताल ले जाया गया। वहां से रेफर होने के बाद रात 10 बजे चाईबासा सदर अस्पताल लाया गया।

नहीं हो पाई बात
सदर अस्पताल में भी मरीज की हालत गंभीर होने के कारण जमशेदपुर रेफर कर दिया। रेफर के बाद कई दफा 108 नम्बर मे कॉल करने के बाद भी बात नहीं हो पाई। जब बात हुई तो एम्बुलैस रांची में होने की बाद कह कर बात को टाल दिया गया। मरीज एम्बुलेंस का इंतजार करते हुए सदर अस्पताल में ही करीब 5 घंटे बाद मंगलवार की सुबह 3 बजे दम तोड़ दिया। पति ने बताया की रेफर के बाद सरस्वती को चाईबासा के डॉक्टरों ने मात्र एक पानी चड़ा रखा था। मेरी पत्नी सरस्वती जख्म के कारण तड़प रही थी। शरीर में मलहम लगा कर छोड़ दिया गया था। पत्नी की मौत के बाद शव को घर ले जाने का प्रयास किया पर डॉक्टरों ने शव ले जाने से मना कर दिया। घटना की जानकारी थाना में देने बाद ही शव को ले जाने दिया जाएगा। दिनभर भटकने के बाद शाम 5:05 बजे शव को पुलिस प्रशासन के आने के बाद परीजनों को शौप दिया गया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.