दुनिया का सबसे विशाल बर्फ का टुकड़ा 18 साल यात्रा करने के बाद अब गायब होने जा रहा है

2018-06-14T02:51:37+05:30

जी हां हम बात कर रहे हैं दुनिया के सबसे विशाल उस हिमखंड की जो अंटार्कटिका से टूट कर 18 सालों से समंदर में यात्रा कर रहा है लेकिन अब वह दुनिया से विदा लेने वाला है।

वाशिंगटन (पीटीआई) नासा ने बताया है कि 18 साल पहले अंटार्कटिका की एक आइस सेल्फ से एक हिमखंड टूटकर समंदर में बह निकला था। वो इतने सालों तक समंदर की यात्रा कर रहा है, लेकिन अब वह जल्दी ही खत्म हो जाएगा। रिपोर्ट के मुताबिक मार्च सन 2000 में बी-15 नाम का एक आइसबर्ग अंटार्टिका से टूटा था।

296 किलोमीटर लंबा था यह हिमखंड

अगर आप सोच रहे हैं कि हम किसी छोटे-मोटे हिमखंड यानी बर्फ की चट्टान की बात कर रहे हैं तो जनाब जरा ध्यान दीजिए साल 2000 में टूटा यह हिमखंड 296 किलोमीटर लंबा था और 37 किलोमीटर चौड़ा था। यानी कि यह हिमखंड भारत के किसी भी बड़े मेट्रो सिटी से भी शायद ज्यादा बड़ा था। इतने सालों तक समंदर की यात्रा के दौरान धीरे-धीरे यह बर्फ का पहाड़ छोटे-छोटे टुकड़ों में टूट गया और समंदर में घुल गया। यूएस नेशनल आइस सेंटर के रिकॉर्ड के मुताबिक इस हिम खंड के चार टुकड़े बचे थे, जिनमें से हर एक 37 किलोमीटर के बराबर था। बता दें कि इससे कम आकार के टुकडे को सेटेलाइट इमेजिंग से ट्रैक कर पाना मुश्किल होता है।

18 साल बाद अब बचा रह गया है इस हिमखंड का आखिरी टुकड़ा

हाल ही में 22 मई को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन के एस्ट्रोनॉट्स ने बड़े हिमखंड के छोटे टुकड़े B-15Z को ट्रेस किया था, जो फिलहाल सिर्फ 18 किलोमीटर लंबा और 9 किलो मीटर चौड़ा शेष रह गया है। यह बर्फ का हिमखंड इतना छोटा होने के बावजूद सेटेलाइट से फिलहाल देखा जा सकता है। फिर भी नासा का कहना है कि बहुत जल्द यह ही यह हिमखंड सेटेलाइट की नजरों से ओझल हो जाएगा, क्योंकि तब तक यह इतना छोटा हो जाएगा कि इसे देख पाना मुश्किल होगा।

इससे बड़ी यात्रा आज तक किसी दूसरे हिमखंड ने नहीं की

वैज्ञानिकों के मुताबिक इस विशाल हिमखंड का टूटना और पानी में घुल जाना चौंकाने की बात नहीं है। पर इस हिमखंड ने जितनी लंबी यात्रा की है वह वाकई चौंकाने वाली है। हाल ही में इस हिमखंड की ली गई सैटेलाइट तस्वीरों में यह साउथ जॉर्जिया आयरलैंड के उत्तर पश्चिम में 277 किलोमीटर दूर समंदर में तैर रहा था। आमतौर पर किसी भी सामान्य हिमखंड की लाइफसाइकिल कम रहती है, क्योंकि वह जल्दी ही पानी में घुल जाता है, लेकिन यह हिमखंड ने 18 सालों तक समंदर की यात्रा करके वाकई दुनिया को हैरान किया है।


चीन को पीछे छोड़ अमरीका ने बनाया दुनिया का फास्टेस्ट सुपर कंप्‍यूटर, दो टेनिस कोर्ट के बराबर है आकार

अब ट्वीट में जुड़ जाएगा EDIT बटन क्योंकि किम कार्दाशियन ने Twitter सीईओ से कह दी है यह बात


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.