सीएम योगी ने प्रतापगढ़ की घटना के बाद दोनों मृतकों के परिजनों को 1010 लाख रुपये देने का किया ऐलान

2018-07-27T12:46:46+05:30

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ की घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए लाख रुपएदोनों मृतकों के परिजनों को 1010 की आर्थिक सहायता दिये जाने की घोषणा की।

lucknow@inext.co.in
Lucknow: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ की घटना पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए दोनों मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिये जाने की घोषणा की। यह राशि मुख्यमंत्री कोष से प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री ने इस घटना के दोषी पुलिस अधिकारियों और कर्मियों के विरुद्ध 24 घंटे के अंदर कार्रवाई किए जाने के निर्देश देते हुए जोन व जिले के अधिकारियों को सचेत किया है कि इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए। साथ ही, उन्होंने इस घटना में संलिप्त दोषी अपराधियों को तत्काल गिरफ्तार कर सख्त से सख्त कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए हैं।

शहीदों की स्मृति में पार्क बनवाने का ऐलान
इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कारगिल विजय दिवस के अवसर पर शहीद स्मारक स्थित कारगिल शहीद स्मृति वाटिका में शहीद हुए सैनिकों की प्रतिमाओं पर भी पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर उन्होंने काकोरी काण्ड व कारगिल युद्ध के शहीदों के परिवारीजनों को सम्मानित करने के साथ सभी नगर निगमों में शहीदों की स्मृति में पार्क बनवाने का ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि देश की एकता और अखंडता की रक्षा करना प्रत्येक भारतीय का कर्तव्य होना चाहिए। हम सभी के लिए ये वीर सैनिक प्रेरक हैं, इनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है।

पार्क देता है प्रेरणा

मुख्यमंत्री ने कहा कि कारगिल विजय दिवस भारत के शौर्य, पराक्रम, स्वाभिमान और सम्मान का दिवस है। प्रदेश के अनेक वीरों ने इस युद्ध में अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि यह पार्क भारत की राष्ट्रीयता को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए प्रेरित करता है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि स्वच्छता को हमें अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए। स्वच्छ भारत की अवधारणा को लेकर ही सशक्त व समर्थ भारत बना सकते हैं। कहा कि भारत माता की रक्षा में शहीद होने वाले सैनिकों के परिवारीजनों को राज्य सरकार हर सम्भव मदद उपलब्ध कराएगी। वहीं डिप्टी सीएम डॉ। दिनेश शर्मा ने कहा कि स्कूली शिक्षा के साथ-साथ राष्ट्र भावना से जुड़ी विभिन्न पहलुओं की प्रेरक जानकारियां भी उपलब्ध करायी जानी चाहिए, जिससें नई पीढ़ी में राष्ट्र भक्ति की भावना प्रबल हो सके। कार्यक्रम में नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, मंत्री आशुतोष टंडन, रीता बहुगुणा जोशी, डॉ। महेंद्र सिंह, अनिल राजभर, मोहसिन रजा, महापौर संयुक्ता भाटिया, विधायक, पार्षद, शहीदों के परिवारी आदि उपस्थित थे।

यूपी में सरकारी विभाग किए जाएंगे कम, मुख्य सचिव ने मुख्यमंत्री दिया प्रेजेंटेशन

एक जगह जमे नहीं रहेेंगे UPSIDA के कर्मचारी, कैबिनेट की मीटिंग मेें लिए गए ये बड़े फैसले


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.